शिवराज राज में विधायकों की बल्ले-बल्ले, डेढ़ गुना हुई सैलरी

नई दिल्ली (30 मार्च): मध्यप्रदेश विधानसभा के बजट सत्र के अंतिम दौर में विधायकों को वेतन-भत्ते बढ़ने की सौगात मिली है। केबिनेट ने विधायकों के वेतन में बढ़ोत्तरी को के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया है।

शिवराज सरकार की कैबिनेट ने विधायकों के वेतन में 50 प्रतिशत की बढ़ोतरी की मंजूरी दी है। इस विधेयक के पास होते ही विधायकों के वेतन में दुगनी बढोतरी देखने को मिलेगी। एक तरफ जहां विधायकों का वेतन 71,000 से बढ़कर 1,10,000 प्रति माह, मुख्यमंत्री का वेतन 1.43 लाख से बढ़कर 2 लाख प्रतिमाह हो जाएगा। वहीं राज्य के मंत्री का वेतन 1.3 लाख से बढकर 1.50 लाख प्रतिमाह हो जाएगा।

इससे पहले वित्तमंत्री जयंत मलैया ने कहा था कि हमने प्रस्ताव तैयार कर लिया है, इस पर सैद्धांतिक सहमति बन गई है। मुख्यमंत्री अभी राजधानी से बाहर हैं, उनकी हरी झंडी मिलते ही इसे कैबिनेट में लाएंगे। इसके बाद इसे विधेयक का रूप दे दिया जाएगा। बता दें कि विधानसभा उपाध्यक्ष डॉ.राजेंद्र कुमार सिंह की अध्यक्षता वाली समिति ने पहले जो सिफारिश की थी, उसके मुताबिक 120 प्रतिशत महंगाई भत्ते को जोड़कर वेतन-भत्ता देना था।