मध्यप्रदेश-मिजोरम चुनाव LIVE: मिजोरम में 3 बजे तक 58 फीसदी वोटिंग

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (28 नवंबर): विधानसभा चुनाव के तहत आज मध्यप्रदेश और मिजोरम में वोटिंग हो रही है। मध्यप्रदेश की कुल 230 और 40 मिरोजम की सीटों पर एक चरण में वोटिंग हो रही है। वोटिंग को लेकर दोनों राज्यों के मतदाताओं में खासा उत्साह देखा जा रहा है।

मध्यप्रदेश-मिजोरम चुनाव अपडेट...

-
- एमपी में 3 बजे तक 50 फीसदी लोगों ने किया मतदान
- मिजोरम में 3 बजे तक 58 फीसदी लोगों ने किया मतदान

- मिजोरम में दोपहर 1 बजे तक 49 फीसदी वोटिंग

- मध्यप्रदेश में सुबह 11 बजे तक 21 फीसदी मतदान

- मिजोरम में सुबह 11 बजे तक 29 फीसदी मतदान 

- 3 पोलिंग अधिकारियों की मौत, EC ने किया 10 लाख के मुआवजे का ऐलान 

-इंदौर में 2 और गुना में 1 चुनाव अधिकारी की मौत

- गुना में ड्यूटी पर तैनात चुनाव अधिकारी की हार्ट अटैक से मौत

- मध्यप्रदेश में सुबह 9 बजे तक 6.32 फीसदी मतदान

- मिजोरम में सुबह 9 बजे तक 15 फीसदी मतदान

- छतरपुर, इंदौर और भोपाल में कई बूथों पर ईवीएम खराब होने की शिकायत 

- कांग्रेस नेता कमलनाथ ने छिंदवाड़ा में किया मतदान
-  शिवराज सरकार में मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने शिवपुरी में अपना वोट डाला

- मिजोरम में वोटिंग को लेकर बुजुर्ग मतदाताओं में भी खासा उत्साह

- कमलनाथ ने छिंदवाड़ा स्थित हनुमान मंदिर में की पूजा, मध्य प्रदेश की जनता में जताया भरोसा 

- शिवराज ने नर्मदा नदी के किनारे की प्रार्थना, पत्नी भी रहीं मौजूद

- 5 करोड़ से ज्यादा वोटर करेंगे सबसे बड़ा फैसला


मध्य प्रदेश में 5,04,95,251 मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे, जिनमें 2,63,01,300 पुरुष, 2,41,30,390 महिलाएं एवं 1,389 थर्ड जेंडर मतदाता शामिल हैं। इनमें से 65,000 सर्विस मतदाता डाक मतपत्र से पहले ही मतदान कर चुके हैं। बाकी 5,04,33,079 मतदाता आज अपने मताधिकार का उपयोग करेंगे।मध्य प्रदेश विधानसभा में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मतदान शुरू हो गया है। बालाघाट जिले के तीन नक्सल प्रभावित विधानसभा क्षेत्रों परसवाड़ा, बैहर एवं लांजी में सुबह 7 बजे से मतदान शुरू हुआ। यहां वोटिंग 3 बजे तक चलेगी। 230 में से 227 विधानसभा क्षेत्रों में सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक मतदान होगा।

वहीं मिजोरम में 40 विधानसभा सीटों पर 7.70 लाख से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।यहां शाम चार बजे तक वोटिंग होगी। मिजोरम में मुख्यमंत्री लल थनहवला तीसरी बार मुख्यमंत्री बनने के लिए, जबकि बीजेपी पूर्वोत्तर के आखिरी गढ़ में कांग्रेस को शिकस्त देने के लिए जोर आजमाइश में लगी है। 1987 में एक पूर्ण राज्य का दर्जा मिलने के बाद से मिजोरम में कांग्रेस और मिजोरम नैशनल पार्टी (एमएनएफ) सत्ता में है। दिलचस्प यह है कि तब से लेकर आज तक कोई भी पार्टी राज्य में दो बार से अधिक सरकार नहीं बना सकी है।