माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्वविद्यालय के कैंपस में खुलेगी गौशाला

नई दिल्ली ( 23 अगस्त ): पत्रकारिता की पढ़ाई के लिए देश भर में प्रचलित माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्वविद्यालय गौशाला शुरू करने का फैसला लिया है। यूनिवर्सिटी ने बताया कि हमने नए कैम्पस में 'गोशाला' शुरू करने का फैसला लिया है। 

विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर बृजकिशोर कुठियाला ने कहा, 'नए बनने वाले परिसर में हमारे पास 50 एकड़ भूमि होगी। इसमें से करीब 2 एकड़ की जमीन ऐसी है, जिसके इस्तेमाल को लेकर हम कुछ भी तय नहीं कर पा रहे हैं। ऐसे में शिल्पकारों के सामने इसके इस्तेमाल का सवाल खड़ा हुआ। इस बारे में हमारे पास कई सुझाव आए, जिनमें से एक गोशाखा शुरू करने का भी था। इस पर हमने काम शुरू कर दिया है।'

यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार दीपक शर्मा ने बताया कि ये एक नया प्रयोग है। गौशाला 2 एकड़ जमीन पर बनाई जाएगी। इसके लिए यूजीसी के किसी तरह की अनुमति की जरूरत नहीं होगी।

कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता पंकज चतुर्वेदी ने विश्वविद्यालय के इस फैसले की निंदा करते हुए कहा कि कुठियाला आरएसएस के अपने गुरुओं को खुश करने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने मीडिया यूनिवर्सिटी में गोशाला के फैसले पर सवाल करते हुए कहा, 'वह अपने आरएसएस के गुरुओं को खुश करने का प्रयास कर रहे हैं। आखिर पत्रकारिता की यूनिवर्सिटी के लिए इसका क्या मतलब है? छात्र यूनिवर्सिटी में पत्रकारिता सीखने के लिए आएंगे या फिर गोसेवा करेंगे।'