मृतक मां का दूध पीता रहा अनजान मासूम

गोविंद गुर्जर, दमोह(25 मई): मध्य प्रदेश के दामोह में एक महिला चलती ट्रेन से गिर गई या शायद किसी ने उसे चलती ट्रेन से धक्का दे दिया। आसपास के लोगों को उसकी मौत की खबर कुछ सिससियों, कुछ किलकारियों से हुई। महिला की मौत हो चुकी थी और एक मासूम अपनी मां को जगाने की पूरी कोशिश में लगा था।

रात भर ये मासूम अपनी मां से लिपटकर बिलखता रहा। चुप हो जाता तो मम्मी के पास पड़ी ममता की पोटली से बिस्कुट निकालकर खाने लगता। फिर मां के सीने से लग जाता।

दमोह मलैया मील रेलवे स्टेशन के पास रेल की पटरियों के किनारे ये मासूम अपनी मां के जागने का इंतजार कर रहा था। और मां अपनी ममता का आंचल खोलकर हमेशा के लिए सो गई थी। बच्चा बार बार अपनी मां को जगाने की कोशिश करता। थोड़ी देर रोता और फिर मां का दूध पीने लगता। बताते हैं कि ट्रेन से गिरकर मां की मौत हो गई, लेकिन मां ने लाड़ले को खरोंच नहीं आने दी।

मां के मायने समझा गई इस महिला की अभी तक शिनाख्त नहीं हो पाई है। बच्चे को मां से दूर करके जब जिला बाल गृह में रखा तो वो खूब रो रहा था।