पानी में डूबते बच्चों को देख पिता ने लगाई छलांग, फिर हुआ उससे भी बड़ा हादसा

flood

Image Source Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली(11 सितंबर):  मध्य प्रदेश में हो रही मानसूनी बारिश  से लोगों का जीना मुहाल हो गया है। राजधानी भोपाल के कई निचले इलाके पानी में डूब गए हैं और साल 2016 के बाद पहली बार कोलार डैम के गेट खोलने पड़े हैं। इस बीच भोपाल में एक दर्दनाक हादसे में एक पिता ने अपनी जान गवां दी। पेशे से ड्राइवर रिजवान कोलार के बाबा झिरी में अपने परिवार के साथ पिकनिक मनाने गए थे। यहां आई बाढ़ में उनके बच्चे डूबने लगे। रिजवान ने बहते पानी में छलांग लगा दी और बच्चों को बचा लिया, लेकिन वह खुद पानी में बह गए।35 साल के रिजवान अपने पूरे परिवार के साथ पिकनिक मनाने गए थे। उनके साथ उनकी पत्नी और बच्चे, बहनोई और कुछ अन्य लोग भी थे। सभी कोलार डैम के बाबा झिरी के पास शाम लगभग 4.30 बजे सैर कर रहे थे। रिजवान और उसके बेटे उथले पानी में खेल रहे थे। अचानक जलस्तर बढ़ने लगा। रिजवान के बच्चे पानी में डूबने लगे। उनकी आवाज सुनकर रिजवान ने बहते पानी में छलांग लगा दी।पानी के तेज बहाव में खुद को बचा नहीं सके

रिजवान बच्चों के पास पहुंचा और उन्हें सहारा देकर पानी के बाहर निकाला लेकिन पानी के तेज बहाव में वह खुद को बहने से नहीं बचा सका। बता दें कि पिछले दो दिनों के अंदर मध्य प्रदेश में लगातार बारिश के कारण कई इलाकों में बाढ़ आई है। कई इलाके में पानी में डूब गए हैं। इसी बारिश के पानी के चलते ही बाबा की झिरी में जलस्तर अचानक बढ़ गया और यह हादसा हुआ।सीएसपी भूपिंदर सिंह ने बताया कि पानी में फंसे अपने तीनों बच्चों को रिजवान ने उठाया और उन्हें किनारे पर ले गया। इससे पहले कि वह सुरक्षित जगह पर पहुंच पाते, अचानक तेज बहाव आया। रिजवान का दाहिना पैर एक चट्टान के नीचे फंस गया। वह मदद के लिए चिल्लाए, लेकिन जब तक उसे मदद मिलती पानी का तेज सैलाब आया और पत्थर सहित रिजवान को बहाकर ले गया। उसके परिवार ने अपनी आंखों के सामने ही उसे बहते हुए देखा लेकिन वे भी कुछ नहीं कर सके।