राजनाथ सिंह ने सेना को दिया यह आदेश, अब नहीं बच पाएंगे आतंकी

नई दिल्ली (26 सितंबर): उरी हमले के बाद भारत सरकार हर हाल में पाकिस्तान को बैकफुट पर धकेलते हुए आतंकियों पर शिकंजा कसने की तैयारी कर रही है। इसी कड़ी में गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मधुकर गुप्ता कमेटी रिपोर्ट को चरणबद्ध तरीके से लागू करने के निर्देश दिए हैं। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने एनएसए अजीत डोवाल के साथ बैठक में फैसला लिए जाने के बाद यह निर्देश जारी किए।

मधुकर गुप्ता कमेटी की रिपोर्ट पर कार्रवाई के तहत सीमा पर बने फेंसिंग को हाईटेक किया जाएगा। बॉर्डर पर जहां जहां फेंसिंग नहीं है और नदी-नाले हैं, वहां पर इलेक्ट्रॉनिक सेर्विलांस लगाने के निर्देश दिए गए हैं। गृह मंत्री ने कुछ दिन पहले बॉर्डर और ज्यादा सिक्योर करने के लिए गृह मंत्रालय के अधिकारियों और बॉर्डर सिक्यॉरिटी फोर्स के अधिकारियों से मधुकर गुप्ता की रिपोर्ट लागू करने के लिए प्रेजेंटेशन लिया है।

गृहमंत्रालय से मिली जानकारी के मुताबिक जहां पर फेंसिंग हैं और ज्यादा खतरनाक एरिया है वहां से अगर आतंकी घुसपैठ करते हैं तो उसके लिए अंडर ग्राउंड सेंसर लगाए जाएंगे। वहीं, नदी नालों के इलाके में लेजर वॉल होगी, साथ ही इन्ही इलाकों में अंडर ग्राउंड वाटर सेंसर लगाए जाएंगे। सीमा के आसपास इलेक्ट्रो ऑप्टिक सेंसर लगाये जाएंगे।

इसके साथ ही, घुसपैठ रोकने के लिए माइक्रो एयरो स्टैट बैलून भी लगाया जायेगा। घने जंगलों में आतंकियों पर नजर और फोटो लेने के लिए Foliage Penetrating Radar लगाये जायेंगे।