मधेसियों और सरकार में समझौता एक-दो दिन में-प्रचण्ड

 

नई दिल्ली (2 जनवरी): नेपाल सरकार और मधेस आंदोलनकारियों के बीच सहमति लगभग बन चुकी है। 'काठमाण्डूपोस्टडॉटईकांतिपुरडॉटकॉम' की खबर के मुताबिक यूसीपीएन (एम) पुष्प कमल दहल ने विराटनगर एयरपोर्ट पर मीडियाकर्मियों को बताया कि संयुक्त लोकतांत्रिक मधेसी मोर्चा के नेताओं के साथ विभिन्न स्तरों पर बात-चीत के बाद सहमति लगभग बन गयी है। उन्होंने बताया कि इनकी पार्टी मधेसियों की मांगों से सहमत है। उनकी पार्टी ने अपनी राय सरकार को भी बता दी है। एक दो दिन में को एक बार फिर औपचारिक बात-चीत के बाद समझौते की घोषणा की जासकती है। एक मीडियाकर्मी के सवाल पर दहल ने कहा कि भारत ने कभी नेपाल को हिंदु राष्ट्र  बनाने पर कभी दबाव नहीं डाला। उन्होंने कहा भारत नेपाल के आंतरिक मामलों में दखल भी नहीं देता है। भारत ने कभी नहीं कहा कि नेपाल को हिंदु राष्ट्र होना चाहिए या सेक्युलर स्टेट। ये हामारा अपना निर्णय है।