UP : विधानसभा में मिले पाउडर को PETN बताने वाले फॉरेंसिक लैब डायरेक्टर निलंबित


लखनऊ (4 सितंबर):
यूपी विधानसभा में विस्फोटक मामले में रिपोर्ट देने वाले फोरेंसिक डायरेक्टर श्याम बिहारी उपाध्याय को सरकार ने निलंबित कर दिया है। श्याम बिहारी पर सरकार को गलत रिपोर्ट देने का आरोप लगा था।

खुद सीएम योगी ने विधानसभा में यह जानकारी देते हुए बताया था कि जांच के बाद विधानसभा में पकड़ा गया पदार्थ पीईटीएन है। लेकिन जब सरकार ने इसकी जांच हैदराबाद से कराई तो रिपोर्ट में मिला पदार्थ पीईटीएन नहीं निकला था। इसी को लेकर फोरेंसिक डायरेक्टर श्याम बिहारी उपाध्याय को गलत और भ्रामक जानकारी देने पर निलंबित कर दिया गया।

आरोप है कि डॉ उपाध्याय ने संदिग्ध पदार्थ में अपूर्ण, भ्रामक, अप्रमाणिक और त्रुटिपूर्ण रिपोर्ट दी। मामले में उन्होंने उच्चाधिकारियों को गुमराह किया। यही नहीं उन्होंने संदिग्ध पदार्थ की जिस एक्सप्लोसिव​ डिटेक्शन किट से जांच की, वह मार्च 2016 में ही एक्सपायर हो चुकी थी। इसके अलावा आरोप है कि जांच उन्होंने गैर विशेषज्ञ और विस्फोटक अनुभाग की बजाए दूसरे अनुभाग से कराई।