इस इंजीनियरिंग छात्र का सुसाइड लेटर पढ़कर रो पड़ेंगे आप...

लखनऊ(26 फरवरी): लखनऊ में इंजीनियरिंग की पढ़ाई करनेवाले एक छात्र ने टीचर से परेशान होकर खुदकुशी कर ली। छात्र ने सुसाइड नोट में शिक्षक पर अटेंडेंस को लेकर घूस मांगने का आरोप लगाया है। मृतक छात्र के परिजनों की शिकायत के बाद पुलिस आरोपी शिक्षक के खिलाफ जांच में जुट गई है।

छात्र ने क्या लिखा लेटर में 

मैं लवकेश मिश्रा अपने पूरे होश में सुसाइड लेटर लिख रहा हूं । मैं मरना नहीं चाहता, लेकिन अब मैं और ये प्रेशर बर्दास्त नहीं कर सकता । भैया, मेरे सुसाइड करने की वजह सिर्फ और सिर्फ मेरे ब्रांच के एचओडी दीपक असरानी हैं, जो कंप्यूटर साइंस के टीचर हैं । उनकी प्रताड़ना से मैं आत्महत्या कर रहा हूं।

लखनऊ में इंजीनियरिंग की पढ़ाई करनेवाले लवकेश की जिंदगी की ये आखिरी चिट्ठी थी। जो उसने खुदकुशी करने से पहले लिखी थी। बड़ी उम्मीद के साथ घरवालों ने उसे सीतापुर स्थित बीएनसीईटी कॉलेज में दाखिला दिलवाया था लेकिन पढ़ाई खत्म होने से पहले ही लवकेश की जिंदगी खत्म हो गई। कॉलेज टीचर से परेशान लवकेश ने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी।

लवकेश मड़ियाव इलाके में किराए के कमरे में रहता था। लेकिन गुरुवार के दिन जब लवकेश के कमरे से कोई आवाज नहीं आई तो मकान मालिक ने इसकी सूचना पुलिस को दी और जब पुलिस ने कमरे का दरवाजा तोड़ा तो लवकेश का शव पंखे से लटका मिला। लवकेश के शव के पास से चार पन्ने का एक सुसाइड नोट भी मिला जिसमें उसने खुदकुशी के लिए अपने कॉलेज के टीचर को जिम्मेदार ठहराया।

इतना ही नही लवकेश ने अपने सुसाइड नोट में आरोपी टीचर को माफ नहीं करने की बात भी लिखी है।

((अब मै तनाव को और नहीं झेल सकता हूं । आज मेरी मौत के जिम्मेदार सिर्फ दीपक असरानी हैं...मैं उन्ही की वजह से अपनी जान दे रहा हूं । आप, एचओडी को कभी माफ मत कीजिएगा । आई एम सॉरी पापा , मैं आपके लिए कुछ नहीं कर पाया...पापा, प्लीज मुझे माफ कर दीजिएगा ।  आई एम सॉरी...

लवकेश मिश्रा))

बेटे के मौत की खबर सुनकर परिवार वाले सदमें में हैं। लवकेश के पिता ने आरोपी शिक्षक के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। उन्होने ने भी लवकेश के टीचर असरानी पर बेटे को परेशान करने का आरोप लगाया। लवकेश के पिता के मुताबिक असरानी अटेंडेस पूरी करने के लिए बेटे से घूस मांगता था।

पुलिस सुसाइड नोट को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। पुलिस का दावा है की हर पहलुओं पर जांच के बाद सच सामने आ जाएगा।