लखनऊ एनकाउंटरः खुरासान मॉड्यूल से जुड़े हैं आतंकी, जानिए क्या है यह मॉड्यूल

नई दिल्ली(8 मार्च): यूपी एटीएस ने आतंकी संगठन आईएस से जुड़े आतंकी सैफुल्ला को 13 घंटे की मुठभेड़ के बाद मंगलवार की रात करीब तीन बजे ढ़ेर कर दिया। बताया जा रहा है कि वह आईएस के खुरासान मॉड्यूल से जुड़ा हुआ था।

-आईएस का खुरासान मॉड्यूल इस्लामिक स्टेट के पूरब जोन में सक्रिय है। खुरासान सीरिया की एक जगह है।

- ईरान, अफगानिस्तान और भारत में भी इस मॉड्यूल के तार जुड़े हैं। इसका हेडक्वार्टर अफगानिस्तान में है। दरअसल, आईएस ने पूरी दुनिया में इस्लामिक स्टेट की स्थापना के लिए दुनिया को अलग-अलग नामों में बांटा है।

- भारत, पाकिस्तान, अफगानिस्तान सहित बड़े पूर्वी इलाके को उसने खुरासान का नाम दिया है। कानपुर से गिरफ्तार किए गए आतंकियों के लैपटॉप से आईएस से जुड़े वीडियो और साहित्य मिले। लखनऊ-कानपुर आईएस के सदस्य खुरासान मॉड्यूल के सदस्य हैं।

- गौरतलब है कि भोपाल से उज्जैन जा रही पैसेंजर ट्रेन में मंगलवार सुबह आतंकी हमला हुआ। धमाकों में अमोनियम नाइट्रेट का इस्तेमाल हुआ था। खुफिया एजेंसियों ने जानकारी दी कि हमले को आतंकी संगठन आईएस के खुरासान मॉड्यूल ने अंजाम दिया है।

- ट्रेन में सवार प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया था कि धमाके के दो मिनट पहले ही चार लोग ट्रेन से उतरकर भागे थे। इस जानकारी के बाद मध्य प्रदेश पुलिस ने पिपरिया में चलती बस से कानपुर निवासी दानिश अख्तर उर्फ जफर, आतिश और अलीगढ़ निवासी सैयद मीर हुसैन को पकड़ा। इनके पास ट्रेन के टिकट और ब्लास्ट के वीडियो मिले हैं। यूपी के डीजीपी जावीद अहमद ने बताया कि दानिश मॉड्यूल का सरगना है। 14 से 15 लोगाें का मॉड्यूल है।