#LucknowEncounter: जानिए, कैसे ध्वस्त किया गया ISIS का 'खुरासन मॉड्यूल'

नई दिल्ली (8 मार्च): मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से शाजापुर जा रही पैसेंजर ट्रेन में विस्फोट की गुत्थी आखिरकार उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में जाकर सुलझी। शाजापुर के जबड़ी स्टेशन के पास सुबह 10 बजे ट्रेन में जोरदार धमाके की आवाज 800 किमी दूर लखनऊ के ठाकुरगंज की हाजी कॉलोनी में शाम 4 बजे सुनाई दी। जी हां यह हैरान करने वाली बात नहीं बल्कि सच है। हाजी कॉलोनी में मारे गए ISIS आतंकी के तार भोपाल-उज्जैन पैसेंजर ट्रेन ब्लास्ट से जुड़े थे। मारा गया आतंकी सैफुल्लाह ट्रेन ब्लास्ट का मास्टमाइंड बताया जा रहा है। हम आपको बताते हैं कैसे जुड़े थे भोपाल से लखनऊ के तार, पूरा घटनाक्रम सिलसिलेवार ढंग से समझें-

    * मंगलवार को सुबह 10 बजे मध्यप्रदेश के शाजापुर जिले के जबड़ी स्टेशन के पास पैसेंजर ट्रेन में बलास्ट हुआ था, जिसमें करीब 10 लोग घायल हुए।

    * इसके तुरंत बाद लगभग 2.30 बजे मध्य प्रदेश पुलिस ने होशंगाबाद के पिपरिया में चेतक टोल नाके के पास तीन संदिग्ध लोगों को गिरफ्तार किया।

    * आतिफ मुजफ्फर उर्फ अल कासिम (कानपुर), मोहम्मद दानिश उर्फ जफर (कानुपर), सैयद मीर हुसैन उर्फ हमजा (अलीगढ़) को गिरफ्तार किया।

    * तीनों से पुछताछ से मिली जानकारी के आधार पर उत्तर प्रदेश पुलिस ने मोहम्मद फैजल खान और मोहम्मद इमरान को कानपुर से गिरफ्तार किया।

    * मोहम्मद फैजल खान और मोहम्मद इमरान के पास से लेपटॉप और मोबाइल जब्त किया, जिसमें ISIS से संबंधित वीडियो और साहित्य मिला।

    * इन दोनों की निशानदेही पर एक अन्य संदिग्ध आतंकी फकरे आलाम उर्फ रिशू को उत्तर प्रदेश के ही इटावा से गिरफ्तार किया गया।

    * इसके बाद मॉड्यूल के मास्टरमाइंड और लीडर सैफुल्लाह को तीन बजे के आसपास यूपी पुलिस ने लखनऊ स्थित उसके आवास पर घेर लिया।

    * उत्तर प्रदेश ATS ने 11 घंटे तक चले ऑपरेशन के बाद देर रात करीब 2.30 बजे ISIS आतंकी सैफुल्ला को मार गिराया गया।

    * पूरे ऑपरेशन को एक संगठित सूचना के आधार पर अंजाम दिया गया, जिसे खुफिया एजेंसियों समेत कई राज्यों की पुलिस शामिल थी।

    * चार राज्यों यूपी, तेलंगाना, एमपी और केरल ने मिलकर काम किया। कर्नाटक, महाराष्ट्र, तमिलनाडु से भी सूचना शेयर की जा रही थी।  

    * सारे आतंकी आतंकी संगठन ISIS के खुरासन मॉड्यूल से सम्बंधित थे, सैफुल्लाह इस आठों आतंकी मॉड्यूल का मास्टरमाइंड था।

कैसे किया ISIS का पूरा मॉड्यूल ध्वस्त- एक अंग्रेजी वेबसाइट की रिपोर्ट के मुताबिक केरल पुलिस ने सीरिया के हेंडलर की यूपी के लड़कों के साथ बातचीत और मध्यप्रदेश में उनके मूवमेंट की जानकारी तेलंगाना पुलिस को दी थी। इसके बाद यह जानकारी यूपी और एमपी पुलिस के साथ भी शेयर की गई। तेलंगाना पुलिस ने आतंकी संगठन आईएसआईएस के खुरासन मॉड्यूल और उनके हमले की योजना के बारे में मध्यप्रदेश और यूपी पुलिस को दी। तेलंगाना पुलिस मध्यप्रदेश में ट्रेन विस्फोट से पहले सीरिया के हेंडलर के साथ ऑनलाइन चेट को ट्रैक कर रही थी। इन लड़कों की लोकेशन के बारे में पता लग गया था और संबंधित पुलिस विभाग को इसके बारे में जानकारी दे दी थी। उत्तर प्रदेश में चल रहे विधानसभा चुनाव में यह आईएसआईएस मॉड्यूल राज्य के कई स्थानों पर हमला करना चाहता था, लेकिन कड़ी सुरक्षा की वजह से वे लोग पड़ोसी राज्य मध्यप्रदेश चले गए। ये लोग उज्जैन ट्रेन में मोबाइल फोन के जरिए आईईडी से हमला करना चाहते थे, लेकिन कुछ तकनीकी खामियों की वजह से ऐसा नहीं हो सका। पुलिस के मुताबिक उन्होंने इंटरनेट के जरिए इसकी ट्रेनिंग हासिल की थी। गृह मंत्रालय के मुताबिक, सैफुल्लाह के जिस ग्रुप का यूपी पुलिस ने खुलासा किया है उसमें 18 से 20 शामिल थे। फिलहाल इस मॉड्यूल के दूसरे संदिग्धों की तलाश की जा रही है। अभी तक की जानकारी के मुताबिक इस माड्यूल में उत्तर और दक्षिण भारत के युवा शामिल हैं, जो आईएस के लिए काम कर रहे हैं।