पुलवामा के शहीदों जवानों की बात करते-करते रो पड़े सीएम योगी आदित्यनाथ


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (23 फरवरी): पुलवामा आतंकी हमले में शहीद जवानों को याद कर उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को भावुक हो गए। लखनऊ में 'मन की बात' कार्यक्रम के दौरान छात्रों ने जब सीएम योगी से आतंकवाद और कश्मीर समस्या पर सवाल पूछा तो उनके आंखों में आंसू आ गए और मंच पर ही रुमाल से अपनी आंख पोछते नजर आए। इससे पहले उन्होंने छात्रों से देरी से आने के लिए माफी मांगी। उन्हें इस कार्यक्रम में 11 बजे पहुंचना था, लेकिन वह दोपहर 1.30 बजे पहुंचे। 


कार्यक्रम के दौरान युवाओं से संवाद के बीच बीटेक के छात्र आदित्य ने सीएम योगी से पुलवामा आतंकी हमले से जुड़ा सवाल पूछा और जानने की कोशिश की कि हमारी सुरक्षा एजेंसी क्या रही है। इसका जवाब देते हुए सीएम योगी ने कहा कि जिस तरह दिया बुझने से पहले उसकी लौ फड़फड़ाती है, उसी तरह आतंकवाद भी अब अपने समापन की ओर है और उसी वजह से आतंकी संगठन छटपटा रहे है। केंद्र सरकार ने आतंकी संगठनों के खिलाफ व्यापक मुहिम छेड़ी हुई है। पुलवामा हमले के मास्टरमाइंड को भी अगले 48 घंटों में मार गिराया गया, शहीदों को याद करते हुए सीएम योगी भावुक हो गए। 


योगी ने कहा कि आतंकवाद को पूरी तरह समाप्त करने के लिए केंद्र की मोदी सरकार पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। मोदी सरकार ने आतंकवाद के खिलाफ व्यापक मुहिम छेड़ी है। इसमें उन लोगों के मन में जो द्वेष है उस भावना के साथ उन्होंने हमला किया है, लेकिन हम सब लोगों को यह समझना चाहिए कि हमारे जवानों ने 48 घंटे के अंदर ही पुलवामा घटना के मास्टरमाइंड समेत आतंकियों को मार गिराया। 


लखनऊ के रामप्रसाद बिस्मिल सभागार में आयोजित इस कार्यक्रम की शुरुआत सीएम योगी आदित्यनाथ ने रामप्रसाद बिस्मिल को याद करते हुए की। उन्होंने कहा, 'रामप्रसाद बिस्मिल से पूछा गया आपकी अंतिम इच्छा क्या है, तो उन्होंने कहा इस भारत देश मे ही मेरा जन्म हो और इस देश के लिए कार्य करते हुए जान जाए।' हम रामप्रसाद बिस्मिल का एक भव्य स्मारक गोरखपुर में बनवा रहे हैं। सीएम योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी दुनिया में एक ब्रांड बन गए हैं।  उन्होंने (मोदी ने) 150 ऐसी योजनाएं शुरू कीं, जिससे यहां का नागरिक अपने सुनहरे भविष्य को देख सकता है।






Image:Google