अखिलेश के ड्रीम प्रोजेक्ट लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे की जांच करेगी SIT

लखनऊ (22 मई): पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट 15 हजार करोड़ रुपए के लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे को लेकर योगी सरकार ने यहां जांच शुरू कर दी है। वहीं अब इसके लिए SIT के गठन का भी ऐलान किया है। अपर मुख्य सचिवलोक निर्माण विभाग सदाकांत ने इस सिलसिले में डीजीपी को चिट्ठी भी लिखा है। उन्होंने डीजीपी को चिट्ठी लिखकर कहा है कि इस मामले में एटा, आगरा, कासगंज और फिरोजाबाद में दर्ज मुकदमों की जांच SIT करेगी।

जानकारी के अनुसार जांच में निर्माण की गुणवत्ता, 3000 करोड़ की कीमत अचानक 15 हजार करोड़ तक कैसे पहुंच गईं, जमीन अधिग्रहण में क्या अनियमितता हुईं, किसानों को मुआवजा कैसे और कितना दिया गया आदि बिंदुओं को शामिल किया गया है।

फिलहाल जांच टीम को उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवे डेवलपमेंट अथॉरिटी (यूपीइआईडीए) के सीईओ अवनीश कुमार अवस्थी लीड कर रहे हैं। उन्होंने सड़क बनाने में नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया के मानकों का पालन किया गया है या नहीं, इसके लिए करीब 300 किलोमीटर में पांच जगह सैंपल लिए।