अभी तक AADHAAR नहीं दिया? नहीं मिलेगी LPG सब्सिडी

नई दिल्ली (6 अगस्त): केंद्र सरकार ने ऑइल मार्केटिंग कम्पनियों (OMCs) से कहा है कि वे योग्य हाउसहोल्ड्स को तब तक एलपीजी सब्सिडी ट्रांसफर ना करें, जब तक कि उनके अकाउंट्स में यूनीक आइडेंटिफिकेशन नंबर, आधार शामिल ना किया जाए।

- सरकार का यह कदम उस नीतिगत मंशा को दिखाता है, जिसमें आधार को सभी रियायतों को पाने के लिए अनिवार्य किया गया है। - सरकार का यह आदेश सुप्रीम कोर्ट के अग्रिम आदेश के लगभग एक साल बाद आया है। जिसमें पब्लिक डिस्ट्रीब्यूशन सिस्टम (पीडीएस) और एलपीजी सब्सिडी डिलिवरी के लिए आधार को अनिवार्य किया गया। - पेट्रोलियम मंत्रालय की तरफ से 30 जून को  एक नोट जारी किया गया। जिसमें कहा गया- "1 जुलाई 2016 से सब्सिडी केवल आधार रखने वाले ग्राहकों को ही ट्रांसफर की जाएगी। बैंक ट्रांसफर कम्प्लायंट कस्टमर्स के लिए सब्सिडी को 30 सितंबर 2016 तक रोका जाएगा, जिन्होंने आधार नहीं लगाया है। इसके बाद पार्क्ड सब्सिडी रद्द हो जाएगी। जिससे ग्राहक उपभोग किए रीफिल्स की सब्सिडी के योग्य 1 अक्टूबर 2016 के बाद नहीं रहेंगे, जबतक कि वे अपने एलपीजी डिस्ट्रीब्यूटर के पास आधार की जानकारी नहीं देते।" - ये निर्देश असम और मेघालय के अलावा पूरे देश में मान्य हैं।