रियो ओलंपिक: हारने के बाद भी 'हीरो' बन गयी ये चीनी तैराक

नई दिल्ली (18 अगस्त): चीन की फू युआनहुई मेडल नहीं जीतकर भी स्टार बन गई। वो भी केवल अपनी साफगोई की वजह से। दरअसल, स्विंमिंग इवेंट में टीम की हार के बाद उन्होंने माना कि वे बहुत तेज नहीं तैर पाईं क्योंकि एक दिन पहले ही उन्हें पीरियड्स शुरू हुए थे। उनके इस बोल्ड रिएक्शन की तारीफ पूरे चीन में हो रही है। 

- 20 साल की फू युआनहुई स्विमिंग में महिलाओं की 4x100 मीटर रिले में लू यिंग, शी जिनग्लिन और झू मेंघुई के साथ उतरी थीं।

- चीनी टीम मेडल की बड़ी दावेदार थीं लेकिन इवेंट में चौथे नंबर पर रह गईं। 

- इस इवेंट के बाद एक रिपोर्टर ने टीम के तीन तैराकों का इंटरव्यू लिया, लेकिन फू का पता नहीं चल पाया। - फू उस वक्त एक बोर्ड के पीछे दुबकी हुई थीं। रिपोर्टर वहां भी पहुंच गया।

- जब उसने हार को लेकर फू से रिएक्शन मांगा, तो फू ने कहा, 'इस बार मैं ठीक से नहीं तैर पाई। मैंने अपने साथियों को नीचा दिखाया।' 

- फू को दर्द से परेशान देख रिपोर्टर ने पूछा- आप ठीक तो हैं? - इस पर फू ने बताया, 'मेरा पीरियड कल ही शुरू हुआ था। इसलिए मैं थकान महसूस कर रही थी। लेकिन ये कोई कारण नहीं है। मैं फिर भी ठीक ठाक तैर लेती हूं। जबकि, आज ऐसा नहीं कर पाई।