नारेबाजी के बीच नहीं बोलीं सुषामा, मोसुल पर दे रहीं थी बयान

नई दिल्ली(26 जुलाई): विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने संसद में मोसुल में लापता भारतीय नागरिकों पर बयान दिया। सुषमा के बोलने से पहले ही विपक्ष का हंगामा शुरू हो गया जिसे देखते हुए उन्‍होंने कहा, ‘ये बहुत ही गंभीर मसला है‘ पर हंगामे के बीच मैं बयान नहीं दे सकती।'

- लोकसभा में मोसुल में लापता नागरिकों के मुद्दे पर विपक्ष के नेता मल्‍लिकार्जुन खड्गे ने कहा, हम भी सरकार की तरह इस मामले को लेकर काफी गंभीर हैं।

- बता दें कि सोमवार को कांग्रेस के 6 सदस्यों द्वारा किए गए हंगामे के कारण उन्‍हें पांच दिनों के लिए निलंबित कर दिया गया था। इसके बाद मंगलवार को कांग्रेस और टीएमसी समेत कई दलों ने स्पीकर से निलंबन वापस करने का अनुरोध किया है। इस बारे में आज स्पीकर अपना अंतिम फैसला दे सकती हैं।