वाराणसी में बोले PM मोदी- आपके भरोसे ने निश्चिंत किया, इसलिए चला गया केदारनाथ

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (27 मई): लोकसभा चुनाव में प्रचंड जीत के बाद और शपथ ग्रहण से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज वाराणसी पहुंचे। यहां सबसे पहले उन्होंने बाबा विश्वनाथ का दर्शन किया और पूजा अर्चना की। इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी दीनदयाल हस्तकला संकुल पहुंचे और पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव 2019 के बाद काशी का प्रधानमंत्री मोदी का ये पहला दौरा है। काशी में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए नरेंद्र मोदी ने कहा कि मैं सिर्फ यहां नामांकन भरने आया था, लेकिन काशी की जनता ने खुद ही मेरे लिए चुनाव लड़ा और हर कोई नरेंद्र मोदी बन गया था। योगी की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि अयोध्या में दिवाली मनाने से किसने रोका था, हमारी सरकार ने दिवाली को भी भव्य बनाया. इस बार कुंभ की पहचान ही बदल गई।

प्रधानमंत्री ने कहा कि 25 अप्रैल को मैं यहां था, तब काशी ने विश्वरूप दिखाया था जिसने पूरे हिंदुस्तान को प्रभावित किया। उन्होंने कहा कि 19 मई को जब यहां पर मतदान होना था, तब मेरा काशी आने का मन था। लेकिन लोगों का आदेश था मैं ना आऊं, सिर्फ जीत के बाद ही यहां पर आऊं। पीएम बोले कि वाराणसी में नामांकन तो एक मोदी ने किया, लेकिन चुनाव हर घर के मोदी ने लड़ा। काशी में सब नरेंद्र मोदी बन गए और नतीजे आज दुनिया के सामने हैं। उन्होंने कहा कि काशी के कार्यकर्ता आराम से नहीं बैठे, कि मोदी जी हैं जीत ही जाएंगे। यूपी में बड़ी सफलता पर उन्होंने कहा कि आज भले ही मैं काशी से बोल रहा हूं लेकिन पूरा यूपी अभिनंदन का प्रार्थी है। यूपी देश की राजनीति को दिशा दे रहा है, स्वस्थ लोकतंत्र की नींव को मजबूत कर रहा है। यूपी में 2014, 2017, 2019 में बीजेपी ने जीत की हैट्रिक लगाई, ये छोटी बात नहीं है। इन तीन चुनावों को इतिहास में याद रखा जाएगा, अगर अब भी राजनीतिक पंडित की सोच नहीं बदलती है तो वह उनकी भूल है।

लगे हाथों नरेंद्र मोदी ने महागठबंधन पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि ये चुनाव लोगों को बता दिया कि अर्थमैटिक से आगे भी एक केमिस्ट्री होती है जो लोकतंत्र को जिताती है। उन्होंने कहा कि इस बार गणित को केमिस्ट्री ने हराया है। PM ने कहा कि त्रिपुरा, बंगाल, कश्मीर और केरल में हमारे कार्यकर्ताओं को मार दिया गया, आज कुछ दल हिंसा को मान्यता दे रहे हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि हम विभाजनकारी नहीं हैं, जो लोग खुद को एकता का ठेकेदार कहते हैं उन्होंने सिर्फ आंध्र का विभाजन किया और आज भी वहां पर शांति नहीं है। हम लोग वो हैं जिन्होंने यूपी में से उत्तराखंड, एमपी में से छत्तीसगढ़ और बिहार में से झारखंड बनाया लेकिन एक चिंगारी तक नहीं आई।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बीजेपी को छुआछूत का शिकार होना पड़ा है, मैं हर किसी से कहता हूं कि नए सिरे से शुरुआत की जरूरत है। कमी हममें भी होंगी, लेकिन हमारे इरादे नेक हैं। उन्होंने कहा कि अगर हम वोटबैंक की राजनीति करते तो कुछ ना करते लेकिन हमने फैसला किया और सामान्य वर्ग को भी आरक्षण दिया, हमने घर दिया तो किसी की जाति नहीं पूछी।