शरद पवार बोले- अगर मेरी बेटी सुप्रिया हारीं तो EVM जिम्मेदार

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (2 मई): राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी प्रमुख शरद पवार ने बड़ा बयान दिया है। शरद पवार ने कहा है कि यदि उनकी बेटी सुप्रिया सुले बारामती से लोकसभा का चुनाव हार जाती हैं तो लोगों का लोकतंत्र से भरोसा उठ जाएगा। बुधवार को एक निजी चैनल को इंटरव्यू देते हुए एनसीपी प्रमुख ने कहा कि ईवीएम से छेड़छाड़ की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता है। साथ ही उन्होंने कहा कि इसका असर लोकसभा चुनाव के परिणाम पर भी पड़ सकता है। साथ ही उन्होंने कहा कि जिन राजनेताओं ने कभी विधानसभा या लोकसभा का चुनाव नहीं लड़ा वो कह रहे हैं कि बारामती से एनसीपी की उम्मीदवार हार जाएगी। इस बात से आशंका पैदा हो रही है।शरद पवार के इस बयान के इस बयान पर अब राजनीति भी तेज हो गई है। बीजेपी ने शरद पवार के बयान का विरोध किया है। फडणवीस मंत्री गिरीश महाजन ने कहा कि 'पवार जानते हैं कि उनकी बेटी लोकसभा चुनाव हार रही है, इसलिए वह काफी सधे रूप से कदम उठा रहे हैं। वह ईवीएम पर हार की जिम्मेदारी थोपने की तैयारी कर रहे हैं।' साथ ही गिरीश महाजन ने कहा कि भारतीय चुनाव आयोग को सभी राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों की मौजूदगी में सभी शंकाओं का निवारण करना चाहिए। यदि हम ईवीएम में छेड़छाड़ करने में सक्षम होते तो हम मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव नहीं हारते।गौरतलब है कि पिछले दिनों आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू के साथ मंच साझा करते शरद पवार ने कम से कम 50 फीसदी पर्चियों की वीवीपैट गिनती की मांग की थी। आपको बता दें कि चुनाव आयोग पहले ही साफ कर चुका है कि 50 फीसदी वीवीपैट पर्चियों का मिलान संभव नहीं है। चुनाव आयोग का कहना है कि अगर सभी संसदीय या विधानसभा क्षेत्र की 50 फीसदी वीवीपैट पर्चियों का मिलान किया जाए तो इनकी गिनती करने में काफी वक्त लग जाएगा। इसमें कम से कम पांच दिन लग जाएंगे। जिससे लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजों की घोषणा 23 मई के स्थान पर 28 मई को हो पाएगी।