PM की तस्वीर वाले विज्ञापन हटाने को लेकर चुनाव आयोग पहुंची कांग्रेस, उठाए 3 बड़े मुद्दे

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (15 मार्च): आम चुनाव को लेकर देशभर में सियासी सरगर्मियां जोरों पर है। तमाम पार्टियां एक दूसरे पर आरोप और प्रत्यारोप में जुटी है और एक दूसरे को घेरने का कोई मौका नहीं छोड़ना चाहती है। इसी कड़ी में आज कांग्रेस प्रधानमंत्री मोदी की शिकायत लेकर चुनाव आयोग पहुंची। कांग्रेस ने चुनाव आयोग से देशभर के पेट्रोल पंप पर लगे प्रधानमंत्री मोदी को पोस्टर को हटाने की मांग की है। कांग्रेस नेताओं ने पेट्रोल पंप, मेट्रो स्टेशन, मोहल्ला क्लिनिक, डीटीसी बसों और केंद्रीय सरकार समेत दिल्ली सरकार के अधीन भवनों पर आचार संहिता लागू होने के बाद भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की तस्वीर वाले पोस्टर-होर्डिंग ने हटाए जाने पर ऐतराज जताया है।चुनाव आयोग में पार्टी का पक्ष रखने के बाद कांग्रेस प्रवक्ता आरपीएन सिंह ने कहा कि, 'कांग्रेस ने 10 मार्च को एक प्रतिवदेन चुनाव आयोग को दिया था जिसमें कहा गया था कि चुनाव आचार संहिता लागू होने के बावजूद सरकार प्रधानमंत्री की तस्वीरों वाले विज्ञापन हवाई अड्डों, रेलवे स्टेशनों और पेट्रोप पंपों पर लगा रही है।' उन्होंने आरोप लगाया कि पेट्रोल एवं डीजल पर उत्पाद शुल्क के नाम पर सरकार ने हजारों करोड़ रुपये लिए और उसी से वह ये विज्ञापन लगवा रही थी। साथ ही आरपीएन सिंह ने कहा कि, 'चुनाव आयोग ने साफ तौर पर कहा कि उस प्रतिवेदन का संज्ञान लेते हुए हवाई अड्डों, रेलवे स्टेशन और पेट्रोल पंपों पर प्रधानमंत्री की तस्वीर वाले के विज्ञापनों को हटाने का निर्देश दिया है। आयोग ने कहा कि आज रात तक हम रिपोर्ट लेंगे कि क्या कहीं विज्ञापन मौजूद हैं।'

पूर्व केंद्रीय मंत्री आरपीएन सिंह की अगुवाई में कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग से 3 मुद्दे उठाए। आयोग के साथ बैठक के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आरपीएन सिंह ने कहा कि आयोग से आचार संहिता लगे होने के बावजूद पेट्रोल पंपों और एयरपोर्ट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लगे पोस्टर्स के बारे में शिकायत करने के अलावा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को लेकर बीजेपी नेता की ओर से की जा रही अश्लील टिप्पणियों और सेना का इस्तेमाल पर रोक लगाने की बात कही गई। आपको बता दें कि 2019 के लोकसभा चुनावों के मद्देनजर देश में आचार संहिता लगने के बावजूद राजनैतिक दलों के द्वारा उल्लंघन के मामले भी सामने आ रहे हैं। हाल ही में दिल्ली नगर पालिका परिषद ने पेट्रोलियम कंपनियों को पेट्रोल पंपों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीरों वाले होर्डिंग और पोस्टर हटाने का निर्देश दिए ।