चंद्रबाबू नायडू की अगुवाई में 21 विपक्षी दलों के नेता आज EC से करेंगे मुलाकात, EVM के मुद्दे पर धरने का भी है कार्यक्रम

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (21 मई): सातों चरणों की वोटिंग के बाद अब 17वीं लोकसभा चुनाव अपने आखिरी चरण पर है। अब लोगों की नजर 23 मई को होने वाली वोटों की गिनती पर है। वहीं दिल्ली में वोटों की गिनती से पहले गहमागहमी तेज है। इसी कड़ी में आज आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री और टीडीपी अध्यक्ष चंद्रबाबू नायडू की अगुवाई में 21 विपक्षी दलों के नेता चुनाव आयोग के आलाधिकारियों से मुलाकात करेंगे। ईवीएम को लेकर इन लोगों को धरने का भी कार्यक्रम है। चंद्रबाबू यह धरना VVPAT की गिनती की मांग को लेकर चुनाव आयोग के बाहर धरना करने वाले है।

आपको बता दें कि सातवें चरण के मतदान के बाद आए एग्जिट पोल के नतीजों में बीजेपी और एनडीए को पूर्ण बहुमत मिलता दिखाई दे रहा है। अभी तक आए पोल के मुताबिक एनडीए को 300 से पार सीटें मिलती दिखाई दे रही हैं, जबकि यूपीए को 127 सीटों मिलने के आसार हैं। यानी ज्यादातर एक्जिट पोल के मुताबिक एक बार फिर बीजेपी नीत एनडीए बहुमत से केन्द्र में सरकार बनाता दिख रहा है। लगभग सभी एक्जिट पोल में बीजेपी नीत गठबंधन को 272 के जादुई आंकड़े को पार करता दिखाया गया है। अब सबकी नजरें 23 मई को आने वाले नतीजों पर हैं। लोकसभा चुनाव 2019 में बीजेपी ने 435 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं, बाकी सीटें बीजपी ने सहयोगियों के साथ बांटी हैं. कांग्रेस कुल 420 सीटों पर चुनाव लड़ा है।

एग्जिट पोल के आने के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि 2019 लोकसभा चुनाव का परिणाम एग्जिट पोल के अनुरूप ही होगा। अरुण जेटली ने कहा कि एग्जिट पोल के अनुरूप ही चुनाव परिणाम आने की स्थिति में नरेंद्र मोदी  की अगुवाई वाली राजग एक बार फिर सत्ता में आएगी। अरुण जेटली ( ने अपने ब्लॉग ‘एक्जिट पोल का संदेश' में कहा कि हम में से कई एक्जिट पोल की सत्यता और उसके सटीक होने को लेकर तकरार कर सकते हैं।