लोकसभा चुनाव 2019 : थोड़ी देर में शुरू होगी मतगणना, नतीजे आने में हो सकता है कुछ लेट

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (23 मई): इंतजार की घड़ियां खत्म होने वाला है। 17वीं लोकसभा चुनाव 2019 के लिए 542 सीटों पर हुई वोटिंग के बाद आज मतगणना का दिन है। जिसकी पूरी तैयारी हो चुकी है। निर्वाचन आयोग वोटों की गिनती सुबह 8 बजे शुरू करेगा। और कुछ देर बाद रुझान आने शुरू हो जाएंगे। हालांकि इस बार वीवीपैट का मिलान भी किया जाएगा इसलिए अंतिम नतीजे आने में थोड़ी देर हो सकती है। वोटों की गिनती का काम सुबह 8 बजे शुरू होगा। सबसे पहले पोस्टल बैलट की गिनती होगी। इसके बाद करीब 8:30 बजे से इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों की गिनती शुरू होगी। माना जा रहा है कि सुबह 9 बजे से पहले रुझान मिलने शुरू हो जाएंगे।

हर विधानसभा क्षेत्र से पांच ईवीएम के वोट और वीवीपैट की पर्चियों का मिलान किया जाएगा। इस पूरी प्रक्रिया में पांच से छह घंटे अतिरिक्त लग सकते हैं। दिल्ली के मुख्य चुनाव अधिकारी रणबीर सिंह ने कहा है कि लोकसभा चुनावों के नतीजों में पांच से छह घंटे की देरी हो सकती है। एक बार जब ईवीएम की गिनती पूरी हो जाएगी तब सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देशों द्वारा वीवीपैट की गिनती की जाएगी। ईवीएम से जुड़ी शिकायतों पर नजर रखने के लिए केंद्रीय निर्वाचन आयोग ने नई दिल्ली के निर्वाचन सदन में 24 घंटे का एक ईवीएम कंट्रोल रूम बनाया है। मतगणना के दिन ईवीएम से जुड़ी कोई भी शिकायत इस कंट्रोल रूम में की जा सकेगी। इस कंट्रोल रूम का नंबर 011-23052123 है।

एग्जिट पोल ने जहां बीजेपी को नतीजों से पहले मुस्कुराने का मौका दे दिया है। वहीं कांग्रेस 2014 से कुछ बेहतर तो दिख रही। ईवीएम पर शंका-आशंका को लेकर विपक्ष के विरोध के बीच विश्व के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश की भावी सियासी तस्वीर क्या होगी, इसका फैसला आज को हो जाएगा। देश के 90 करोड़ वोटरों में से 60 करोड़ से ज्यादा ने अगले पांच साल के लिए किसे अपना भाग्यविधाता चुना है, इस पर से भी पर्दा उठ जाएगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बनाम राहुल गांधी और विपक्ष के बीच करीब दो माह चली चुनावी जंग में किसे मिलेगा ताज और कौन होगा सरताज, यह भी साफ होगा। वहीं, परिणाम अनुकूल नहीं आने पर विपक्षी नेताओं के हिंसा के भड़काऊ भाषणों को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने गंभीरता से लिया है। मंत्रालय ने देश के सभी राज्यों के मुख्य सचिवों और पुलिस महानिदेशकों (डीजीपी) को भेजे पत्र में गुरुवार को हिंसा की आशंकाओं को देखते हुए सतर्क रहने को कहा है।