बीजेपी को सता रहा है हार का डर, PM मोदी का आत्मविश्वास हुआ कमजोर- कांग्रेस

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (26 अप्रैल): प्रधानमंत्री मोदी ने आज वाराणसी से अपना नामांकन पर्चा भरा। इस दौरान काशी में एनडीए के तमाम बड़े नेताओं का मजमा लगा रहा। वहीं नामांकन के बाद कांग्रेस ने प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधा है। कांग्रेस ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी बनारस के साथ-साथ देश के लिए कुछ नहीं किया और न ही अपना वादा पूरा किया। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राजीव शुक्ला ने कहा कि तीन चरणों के चुनाव के बाद बीजेपी की हालत खराब है। प्रधानमंत्री मोदी का आत्मविश्वास कमजोर हो गया है और उन्हें अब हार का डर सताने लगा है। साथ ही उन्होंने दावा किया कि तीन चरणों की वोटिंग के बाद कांग्रेस के पक्ष में फीडबैक है।

इसके साथ ही कांग्रेस ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी ने पिछले 5 साल में भाषण के अलावा कुछ नहीं किया। साथ ही पूर्व केंद्रीय मंत्री राजीव शुक्ला ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने खुद इस बात को माना है कि पिछले पांच साल में कुछ नहीं हुआ है। देश में रोजगार में कमी आई है और महंगाई बढ़ी है। कांग्रेस ने आरोप लगाया कि काशी को क्योटो बनाने की बात कही जा रही थी लेकिन यहां अभी भी गंगा मैली है। 24 घंटे बिजली का वादा किया गया था लेकिन आठ घंटे भी बिजली नहीं आती है। साथ ही उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने 4 गांव को गोद लिया लेकिन उन्होंने इन गांवों में एक भी पैसा खर्च नहीं किया।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी ने आज बनारस से अपना नामांकन पर्चा भरा। इस दौरान उनके साथ बीजेपी के तमाम बड़े नेताओं के साथ-साथ एनडीए के बड़े नेता भी मौजूद थे। प्रधानमंत्री मोदी के नामांकन के दौरान बीजेपी ने एनडीए गठबंधन को मजबूत दिखाने की भरपूर कोशिश की। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नामांकन से पहले आज अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि वो कल ही जीत गए थे लेकिन अब पोलिंग बूथ जीतना है। उन्होंने कहा कि जैसे श्रीकृष्ण ने संगठन में शक्ति दिखाकर गोवर्धन उठाया था वैसे ही मैं चाहता हूं कि आप सभी मिलकर पोलिंग बूथ जीते। उन्होंने कहा कि बनारस का चुनाव ऐसा होना चाहिए कि सियासी पंडितों को इस पर किताब लिखना पड़ जाए। इस दौरान उन्होंने भारत-पाकिस्तान क्रिकेट मैच का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि जिस तरह क्रिकेट वर्ल्ड कप में भारत-पाकिस्तान का मैच न हो तो कमाई नहीं होती है, उसी तरह अब राजनीतिक विश्लेषकों की वाराणसी के चुनाव में दिलचस्पी खत्म हो गई है। बता दें कि कल कांग्रेस ने पीएम मोदी के खिलाफ अजय राय को मैदान में उतारा है। जबकि पहले यहां से प्रियंका गांधी के लड़ने की चर्चा थी।