EVM-VVPAT मामला: SC ने चुनाव आयोग को गुरुवार तक हलफनामा दाखिल करने के लिए कहा

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (25 मार्च): देश की सबसे बड़ी अदालत में ईवीएम-वीवीपैट मामले पर सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट ने 21 विपक्षी दलों की ओर दायर VVPAT की गिनती की मांग वाली याचिका पर सुनवाई की। सुनवाई को दौरान कोर्ट ने चुनाव आयोग से गुरुवार कर हलफनामा दाखिल करने के लिए कहा है। साथ ही कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा है कि इसमें क्या दिक्कत है। मामले की अगली सुनवाई अब एक अप्रैल को होगी।आपको बात दें कि चंद्रबाबू नायडू, अखिलेश यादव, के सी वेणुगोपाल, शरद पवार, अरविंद केजरीवाल, सतीश चंद्र मिश्र समेत विपक्ष दलों के 21 नेताओं ने इस सिलसिले में सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी। इस याचिका में EVM द्वारा होने वाले चुनाव में गड़बड़ी की बात कही थी और मांग की थी की 50 फिसदी तक VVPAT पर्चियों के EVM से मिलान किए की मांग की गई थी। इसके अलावा एक्टिविस्ट सुनील अहिया और रामबिलास द्वारा भी एक याचिका दायर की गई है। एक्टिविस्ट सुनील अहिया और रामबिलास द्वारा भी एक याचिका दायर की गई है। जिसमें ईवीएमएस के सोर्स कोड में बदलाव की बात कही गई जिससे इन्हें टैम्पर प्रूफ बनाया जा सकें।आपको बता दें कि पिछले कुछ दिनों में हुए विधानसभा चुनाव से लेकर उपचुनाव में EVM में गड़बड़ी की शिकायत की गई थी। कई राजनीतिक पार्टियों ने EVM में गड़बड़ी की शिकायत करते हुए, चुनाव बैलेट पेपर से कराने की मागं की थी। कई पार्टियों ने तो सदन के अंदर तक EVM को किस तरह हैक किया जा सकता है उसका डैमो दिखाने की भी कोशिश की थी। वहीं, इन बातों को चुनाव आयोग ने गलत ठहराया था। चुनाव आयोग का साफ कहना था कि हर चुनाव निष्पक्ष तरीके से हुआ और आगे भी होगा और EVM में किसी भी तरह की गड़बड़ी नहीं है और ना ही उसे हैक किया जा सकता है।