पीएम बनने के बाद मोदी का पहला अयोध्या दौरा आज, लेकिन धार्मिक स्थलों से रहेंगे दूर

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (1 मई ): प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी आज पहली बार अयोध्या का दौरा करने वाले हैं। प्रधानमंत्री मोदी का दौरा चुनावी है, वे राम लला नहीं जाएंगे। लेकिन बीजेपी सीधे संकेत देना चाहती है कि पीएम मोदी और पार्टी के लिए अयोध्या मुद्दा अहम है। प्रधानमंत्री मोदी अयोध्या और अंबेडकर नगर के बीच फैजाबाद के गोसाईंगंज के माया बाजार इलाके में जनसभा को संबोधित करेंगे। अयोध्या से करीब 25 किलोमीटर दूरी पर पीएम रैली करेंगे। माना जा रहा है कि बीजेपी ने अयोध्या के आसपास की सीटों को साधने के लिए पीएम की जनसभा कराने की रणनीति बनाई है।बतौर प्रधानमंत्री मोदी की यह पहली अयोध्या यात्रा है। आयोध्या आ कर भी पीएम नरेंद्र मोदी श्रीरामलला और हनुमानगढ़ी मंदिर के दर्शन नहीं कर पाएंगे। मोदी का अयोध्या आना और श्रीरामलला का दर्शन न करना स्थानीय लोगों में चर्चा का विषय का बना हुआ है। आयोध्या आने वाला हर शख्स श्रीरामलला का दर्शन करना नहीं भूलता है। आपको बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी भी हाल-फिलहाल में अयोध्या आ चुके हैं। दोनों ने श्रीरामलला के दर्शन तो नहीं किए, लेकिए हनुमानगढ़ी मंदिर जाकर पूजा अर्चना जरूर की।आपको बता दें कि राम मंदिर आंदोलन से लेकर अब तक बीजेपी के दो ही ऐसे नेता रहे हैं जिन्होंने रामलला से दूरी बनाए रखी है। बीजेपी के उन नेताओं में पहला नाम है बीजेपी के संस्थापक सदस्यों में से एक और पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी और दूसरा पीएम मोदी का है।ऐसा माना जा रहा है कि पीएम मोदी सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद ही अयोध्या आना चाहते हैं। क्योंकि देश में लोकसभा का चुनाव हो रहा है और उनका प्रत्याशियों के लिए रैली करना पार्टी ने तय किया है। ऐसे में फैजाबाद और अंबेडकरनगर की सीमा पर होने वाली रैली को भी वह मना नहीं कर सके।