अमित शाह की NDA नेताओं को डिनर पार्टी, नीतीश, उद्धव, बादल की जगह शामिल होंगे उनके प्रतिनिधि

Image Credit: Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (21 मई): 17वीं लोकसभा चुनाव परिणाम से पहले आज बीजेपी अध्यक्ष एनडीए के बड़े नेताओं को डिनर पार्टी दे रहे हैं। इस पार्टी में एनडीए के तमाम बड़े नेताओं को बुलाबा भेजा गया है। सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक अमित शाह के इस रात्रि भोज में शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और शिरोमणि अकाली दल प्रमुख प्रकाश सिंह बादल हिस्सा नहीं लेंगे। बताया जा रहा है कि इन नेताओं की जगह उनके प्रतिनिधि इस भोज में शामिल होंगे। बताया जा रहा है कि दिल्ली के एक पांच सितारा होटल में आयोजित इस डिनर पार्टी में अमित शाह सहयोगियों से गठबंधन की रण्नीति को लेकर बात कर सकते हैं। सूत्रों के मुताबिक इस डिनर में पीएम नरेंद्र मोदी भी मौजूद होंगे, इस बैठक में आगे की रणनीति तय की जाएगी।

सूत्रों के मुताबिक, अमित शाह की तरफ से एनडीए नेताओं को डिनर का बुलावा सिर्फ एक बहाना है। दरअसल अमित शाह ने आगे की रणनीति पर बात करने के लिए डिनर रखा है, लोकसभा चुनाव के लिए सात चरणों में मतदान 11 अप्रैल से 19 मई तक चला। वोटों की गिनती और साथ ही परिणामों की घोषणा 23 मई को होनी है। लोकसभा में कुल 542 र्सीटें हैं और बहुमत के लिए किसी भी पार्टी या गठबंधन को कम से कम 272 सीटें चाहिए।बीजेपी के गठबंधन में 40 के करीब छोटी-बड़ी पार्टियां हैं, लेकिन 9 पार्टियां हैं जिसका काफी प्रभाव है। बीजेपी की अहम सहयोगियों में एक नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू है, 2014 के लोकसभा चुनाव में जेडीयू बीजेपी अलग-अलग चुनाव लड़ी थी। एनडीए में बीजेपी के बाद सबसे बड़ी पार्टी शिवसेना है। 2014 में शिवसेना ने बीजेपी के साथ मिलकर 18 सीटें जीती थी। इस बार के चुनाव में दक्षिण भारत में AIADMK बीजेपी के साथ आई, 2014 के चुनाव में AIADMK ने 36 सीटों पर जीत दर्ज की इसबार बीजेपी, एआईएडीएमके, पीएमके, डीएमडीके के साथ मिलकर चुनाव लड़ रही है।इस चुनाव में सबसे पुराने सहयोगी सुखबीर सिंह बादल की पार्टी अकाली दल भी बीजेपी के साथ है। रामविलास पासवान 2014 की तरह ही बीजेपी के साथ चुनाव लड़ रहे हैं, अनुप्रिया पटेल की पार्टी अपना दल उत्तर प्रदेश में दो सीटों पर चुनाव लड़ रही है, प्रफुल्ल महंता की पार्टी असम गण परिषद बीजेपी के खेमे में है।