देशभर में आज मनाया जा रहा है लोहड़ी, यहां जानें- लोहड़ी पूजन का शुभ मुहूर्त

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (13 जनवरी): देशभर में आज लोहड़ी का त्योहार धूम-धाम से मनाया जा रहा है। खासतौर से ये त्योहार पंजाब,  हरियाणा और हिमाचल प्रदेश में मनाया जाता है। यह त्योहार मकर संक्रांति के ठीक एक दिन पहले आता है। देश के अन्नदाता यानी किसानों से इस त्योहार यानी लोहड़ी का सीधा संबंध है। दरअसल, यह वो वक्त होता है जब किसानों की फसल हरे रंग से सुनहरेपन की तरफ बढ़ती है। यानी फसल पकने का समय होता है। इसके अलावा, इस त्योहार का धार्मिक महत्व भी है। आमतौर पर यह त्योहार मकर संक्रांति की पूर्व संध्या पर मनाया जाता है। जम्मू के आरएस पुरा सेक्टर में इंटनेशनल बॉर्डर पर बीएसएफ के जवानों ने रीति-रिवाज और धूमधाम से मिलकर लोहडी मनाई।

गौरतलब है कि मकर संक्रांति से एक दिन पहले देश भर में लोहड़ी का त्योहार मनाया जाता है। इस साल मकर संक्रांति का त्योहार 14 नहीं  बल्कि 15 जनवरी को मनाया जाएगा। ऐसे में लोगों में संशय है कि लोहड़ी 13 को मनाई जाएगी या 14 को। आपको बता दें कि 14 जनवरी की शाम 7 बजकर 50 मिनट पर सूर्य मकर राशि में प्रवेश कर जाएंगे इसलिए 13 जनवरी को ही लोहड़ी मनाई जाएगी। लोहड़ी पूजन का शुभ मुहूर्त शाम में 5 बजकर 41 मिनट से 7 बजकर 4 मिनट तक होगा।

लोहड़ी मुख्य रूप से पंजाबियों का त्योहार माना जाता है। इसकी तैयारी लोहड़ी से कुछ दिन पहले ही शुरू हो जाती है। लोहड़ी में मूंगफली, गुड़, तिल और गजक का विशेष महत्व माना जाता है। लोहड़ी का त्योहार नवविवाहितों के लिए खास होता है। नव विवाहित जोड़ा इस दिन अग्नि में आहुति देते हुए उसके चारों ओर घूमता है और अपनी सुखी वैवाहिक जीवन की प्रार्थना करता है। लोहड़ी पर्व के दिन सुबह से शाम तक बच्चे, महिलाएं युवक एक समूह में सिखों के घर में जाकर लोहड़ी मांगते हैं। लोहड़ी मांगने के दौरान समूह द्वारा - दे माईं लोहड़ी, तेरी जीवें जोड़ी, तेरा एवी जिऊंगा रब हौर वी दवेगा गीत गाकर लोहड़ी मांगी जाती है। तब घर से गृहिणियां निकलती हैं और लोहड़ी मांगने वाले समूह को रुपये, मूंगफली, तिलकुट, मकई सहित खाद्य सामग्री देते हैं।