हाईवे शराब बैन मामला: महेश शर्मा से मिले होटल और शराब कारोबारी

नई दिल्ली (3 अप्रैल): हाईवे के करीब शराब की बिक्री पर पाबंदी के बाद होटल और शराब कारोबारी बीच का रास्ता निकालने की मांग को लेकर आज पर्यटन मंत्री महेश शर्मा से मुलाकात की। मीटिंग के दौरान होटल कारोबारियों ने महेश शर्मा से अनुरोध किया की सरकार ऐसा कुछ रास्ता निकाले जिससे सुप्रीम कोर्ट के इस आदेश का पर्यटन कारोबार पर असर न पड़े। वहीं केंद्रीय मंत्री ने इन लोगों को इस मसले पर कानून मंत्रालय सभी स्टेक होल्डर्स के बात करने का भरोसा दिया।


आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने एक अप्रैल से केन्द्र और राज्यों के हाईवे के पांच सौ मीटर के दायरे में शराब की बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया है। सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से व्यापारियों के साथ साथ होटल, रेस्टोरेंट, बैन्क्वेट और मैरिज हाल के कारोबारियों में खलबली मची है।


बताया जा रहा है कि हाईवे के आस पास शराब बंदी के सुप्रीम कोर्ट के आदेश से करीब दस लाख लोग बेरोजगार हो जाएंगे। सुप्रीम कोर्ट का ये आदेश एक अप्रैल से लागू हो गया है। इस आदेश के मुताबिक, राष्ट्रीय और राज्य हाईवे के अगल-बगल 500 मीटर के दायरे में शराब की बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध है। यहां तक कि इस दायरे में पांच सितारा होटलों, रेस्टोरेंट और मैरिज हाल में भी शराब और बीयर नहीं परोसी जा सकती।