हाईवे से 500 मीटर तक शराब बैन पर SC ने कहा- लोगों की सेहत सबसे पहले


नई दिल्ली (30 मार्च): राज्य और नेशनल हाईवे के 500 मी‍टर की पर शराब के ठेकों को बंद करने पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि लोगों की सेहस सबसे पहले है। सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार 1 अप्रैल से राजमार्गों के 500 मीटर के दायरे में शराब की दुकानें हटाई जानी हैं।


अदालत में शाराब कारोबारियों की लगातार याचिकाएं पहुंच रही है। उन याचिकाओं को लेकर शीर्ष अदालत ने एक बार फिर लोगों की सेहत को ही प्राथमिकता पर लिया है और अपना आदेश बरकरार रखा है। इससे पहले मामले में शीर्ष अदालत ने दाखिल याचिकाओं पर कहा था कि लोगों की सेहत सबसे पहले है, लेकिन बैलेंस अप्रोच की दरकार है। शीर्ष अदालत ने इस मामले में सभी हितधारकों को विकल्प सुझाने के लिए कहा था।


सुनवाई के दौरान चीफ जस्टिस की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय पीठ ने कहा था कि यह गंभीर विषय है। उन्होंने कहा था कि हमें यह देखने की जरूरत है कि सड़क दुर्घटनाओं में कितनी मौतें होती हैं। आजीविका चलाने वाले की मौत होने पर परिवार पर बुरा असर पड़ता है। लिहाजा इस मामले में बैलेंस अप्रोच की जरूरत है।