आर्मी अफसर ने जूनियर से प्यार में दी जान

नई दिल्ली(24 अक्टूबर): सेना के एक लेफ्टिनेंट कर्नल ने अपनी जूनियर ऑफिसर पर हमला करने के बाद जान दे दी। पुलिस के मुताबिक महाराष्ट्र के रहने वाले दो बच्चों के पिता टी. जाधव देहरादून की रहने वाली अपनी जूनियर लेफ्टिनेंट के साथ कुछ समय से रिलेशनशिप में थे। लेकिन बीते कुछ दिनों से दोनों के बीच इस रिलेशनशिप को लेकर खटपट चल रही थी। इसी विवाद में टी. जाधव ने पहले महिला अधिकारी का गला दबाने का प्रयास किया। फिर जहरीले पदार्थ का इंजेक्शन लगाकर आत्महत्या कर ली।

- 40 वर्षीय जाधव बीते दो सालों से मथुरा के मिलिट्री हॉस्पिटल में एनेस्थेटिस्ट के तौर पर तैनात थे। वह अस्पताल में नर्सिंग असिस्टेंट के तौर पर तैनात महिला अधिकारी के साथ शुक्रवार को लॉन्ग ड्राइव पर निकले थे। इसी दौरान दोनों के बीच विवाद हुआ।

- एक अधिकारी ने बताया, 'कुछ दिनों पहले महिला लेफ्टिनेंट ने जाधव को बताया था कि उसकी शादी तय हो गई है, इसलिए उन्हें अब अपना रिलेशनशिप खत्म करना होगा। इसके बाद से जाधव डिप्रेशन में रहने लगे थे।'

- लेफ्टिनेंट की ओर से शुक्रवार की रात को दर्ज कराई गई एफआईआर के मुताबिक कर्नल जाधव ने उससे कहा था कि वह उसके साथ किसी मसले पर बात करने के लिए लॉन्ग ड्राइव पर चलना चाहते हैं। 

- मथुरा सिटी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार सिंह ने बताया, 'श्री राधा राधा कॉलोनी के पास पहुंचने के बाद लेफ्टिनेंट कर्नल जाधव ने महिला अधिकारी से अपने साथ आत्महत्या करने को कहा। जब महिला लेफ्टिनेंट ने इनकार किया तो जाधव ने उसका गला दबाने का प्रयास किया।'

- एएसपी ने कहा, 'महिला अधिकारी ने बताया कि जाधव उसका गला दबाने का प्रयास कर रहे थे। लेकिन वह लंबे संघर्ष के बाद किसी तरह बच निकली और कार से कूद गई। इसके बाद जाधव ने खुद को कार के अंदर लॉक कर लिया और अपनी जांघ पर जहर का इंजेक्शन लगा लिया।' 

- महिला लेफ्टिनेंट की ओर से सैन्य अधिकारियों को इस बारे में सूचना दिए जाने के बाद कर्नल जाधव के शव को मिलिट्री अस्पताल लाया गया, जहां उनके शव की ऑटोप्सी की गई।