सुरक्षाबलों ने लिया बदला, लेफ्टिनेंट उमर फयाज का हत्यारा आतंकी इश्फाक ढेर

नई दिल्ली ( 2 सितंबर ): सुरक्षाबलों ने शनिवार को ईद-उल-जुहा की सुबह कुलगाम में लश्कर-ए-तैयबा के स्थानीय आतंकी इश्फाक पड्डर को एक मुठभेड़ में मार गिराया। यह आतंकी लेफ्टिनेंट उमर फैयाज की हत्या में भी शामिल था। सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में शनिवार को इसे मार गिराया गया। लश्कर-ए-तैयबा के इस आतंकी को दबोचने के लिए 62 राष्ट्रीय राइफल्स और एसओजी ने अभियान चलाया था। इशफाक के मारे जाने के बाद सुरक्षाबल उसके सहयोगियों की तलाश कर रहे हैं।

बता दें कि 10 मई को शोपियां के हरमन में शहीद लेफ्टिनेंट उमर फैयाज का शव मिला था। वह अपने कजन की शादी में शामिल होने के लिए गए थे। वहीं आतंकियों ने उन्हें मार दिया था। स्थानीय लोगों ने बताया था कि नकाब पहने दो लोगों ने फैयाज को अपने साथ चलने को कहा था। 

फयाज को नजदीक से सिर, पेट और सीने में गोली मारी गई थी। आतंकियों के गोली मारने से पहले फयाज ने प्रतिरोध भी किया था। इस घटना के बाद स्थानीय लोगों में काफी गुस्सा था। सेना ने इस घटना को 'कायरतापूर्ण कृत्य' करार देते हुए राजपूताना राइफल्स के कर्नल लेफ्टिनेंट जनरल अभय कृष्णा ने कहा था कि कश्मीर ने अपना एक बेटा खो दिया है। फयाज के हत्यारों को बख्शा नहीं जाएगा।