22 साल की यह लॉ स्टूडेंट लाइट हाउस पर चढ़कर ले रही थी सेल्फी, और हो गया भयानक हादसा

नई दिल्ली (30 मई): सेल्फी का जुनून जान पर भी भारी पड़ सकता है-शायद इस घटना को सुनने के बाद लोग अब ऐसा सोचेंगे भी और सेल्फी को जान से ज्यादा तबज्जोह देंगे। घटना इस तरह है कि चार दोस्तों के साथ कर्नाटक घूमने गई नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी जोधपुर की स्टूडेंट प्रणिता मेहता बीते रोज समुद्री जहाजों को रास्ता दिखाने वाले लाइट हाउस पर चढ़कर सेल्फी लेने लगी, और इसी दौरान उसका संतुलन बिगड़ा और वो 300 फीट की ऊंचाई से समुद्र में समुद्र में जा गिरी।

प्रणिता को उसके दोस्त गिरता हुआ देखते रहे,चीखते रहे-चिल्लाते रहे। वो भाग कर नीचे भी गये और वहां मौजूद लोगों से प्रणिता को खोजने की गुहार लगायी। काफी देर बाद समुद्र में उसका शव बरामद हुआ। जोधपुर के नेहरू पार्क  में रहने प्रणिता के पेरेंट्स डॉक्टर हैं। पहले तो उन्हें विश्वास ही नहीं हुआ फिर जब पुलिस ने पुष्टि की तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गयी।  दुनिया के मनोचिकित्सकों के अनुसार  सेल्‍फी का शौक एक मनोविकार बन चुका  है। जरूरत से अधिक खुद की या दूसरों संग ली गयी सेल्‍फी सोशल मीडिया पर डालना एक तरह का मानसिक रोग ही है। कुछ देशों की सरकारों ने सेल्फी पर प्रतिबंध तक लगा दिया है।