पाकिस्तान से बदला लेगी शहीद की ये बेटी

नई दिल्ली(15 जुलाई): जम्मू-कश्मीर के केरन सेक्टर में बुधवार को हुई फायरिंग में लांस नायक रंजीत समेत 2 जवान शहीद हो गए।

शुक्रवार को उनका शव उनके पैतृक निवास स्थान भलवाल स्थित घर में लाया गया। पिता के शव को देखकर शहीद की 8 साल की बेटी काजल फूट-फूटकर रोने लगी।


- काजल ने इस विषम परिस्थिति में भी अपना हौसला दिखाया और कहा कि बड़े होकर आईपीएस बनना चाहती है।


- शहीद रंजीत सिंह की बेटी ने यह भी कहा, 'पापा चाहते थे कि मैं बड़े होकर आईपीएस बनूं। एक दिन मैं जरूर आईपीएस बनूंगी और पाकिस्तान को सबक सिखाऊंगी। आतंकवाद के खिलाफ लड़कर पिता की शहादत का बदला लूंगी।'


- काजल के छोटे भाई 7 साल के कार्तिक ने भी अपने पिता की शहादत का बदला लेने और सेना में भर्ती होने का संकल्प लिया। अपने शहीद बेटे के अंतिम दर्शन के लिए बड़ी संख्या में लोग पहुंचे और परिवार को दिलासा देने लगे।


- लांस नायक रंजीत सिंह और रायफलमैन सतीश भगत एलओसी पर पाकिस्तानी सैनिकों द्वारा किए गए संघर्ष विराम उल्लंघन में शहीद हो गये थे। दोनों ही जवान 3 JAK रायफल से थे और एलओसी के पास उन्हें तैनात किया गया था। रंजीत सिंह जम्मू-कश्मीर में भलवाल इलाके के रहने वाले थे। उनके परिवार में पत्नी और 2 बच्चे हैं।