उरी का बदला ले लिया है...सुनने के बाद ही अमर बलिदानी राजकिशोर ने त्यागे प्राण

नई दिल्ली (29 सितंबर): उरी हमले में गंभीर घायल बिहार रेजीमेंट के नायक राजकिशोर सिंह नेअपने कमांडिंग अफसर से कहा था कि साहब धोखे से हमला किया है...बदला ले लिया होता तो मरने का गम न होता...। राजकिशोर की हालत गंभीर थी, उसे दिल्ली के आर्मी हॉस्पीटल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया। उसे जब भी होश आता तो इशारों से पूछता...उरी का बदला मिला...और फिर बेहोश हो जाता...ऐसा लगता कि वो सिर्फ बदला ले लेने की खबर सुनने के जिंदा है...और हुआ भी कुछ ऐसा ही आज दोपहर बाद उसने आंखे खोली...उसे इशारों से बताया गया कि उरी हमले का बदला ले लिया गया है। 19 के बदले 50 मारे हैं...घर में घुस कर मारे हैं...इतना सुनने के बाद राजकिशोर की आंखों में चमक आ गई, किनारों से खुशी के आंसू ढलके और... उसने अपनी आंखे बंद कर लीं...फिर कभी न खोलने के लिए...सांय साढ़े तीन बजे उसने आखिरी सांस ली...एक वीर से शहीदों की तरह इस धरती से प्रयाण किया।