लालू ने RJD अध्यक्ष पद के लिए भरा नामांकन, निर्विरोध चुनाव जाना तय

पटना (12 नवंबर): आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव एकबार फिर आरजेडी के अध्यक्ष बनने जा रहे हैं। इसके लिए लालू प्रसाद यादव ने आज नामांकन पर्चा भरा। हालांकि लालू यादव का निर्विरोध अध्‍यक्ष बनना तय है। पार्टी में यह उनकी लगातार 10वीं पारी होगी। आपको बता दें 1997 में जनता दल से अलग होकर राजद के गठन के बाद से लालू अध्यक्ष पद पर काबिज हैं। 21 नवंबर को राजद के राष्ट्रीय निर्वाचन पदाधिकारी जगदानंद सिंह पार्टी के खुले अधिवेशन के पहले लालू के निर्विरोध निर्वाचन की विधिवत घोषणा करेंगे, लेकिन इसके पहले पार्टी के संविधान के मुताबिक लालू को कई प्रक्रियाओं से गुजरना पड़ेगा।

जनता दल से टूटकर लालू ने पांच जुलाई 1997 को राष्ट्रीय जनता दल की बुनियाद रखी थी। नयी पार्टी के वह पहले राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोनीत किये गये थे। इसके बाद पार्टी में संगठन चुनाव की परंपरा शुरू की गयी। निचले स्तर पर यह अभी भी जारी है, किंतु शीर्ष स्तर पर सबकुछ निर्विरोध हो जाता है। लालू के नाम और काम के आगे पार्टी के दूसरे नेताओं के कद-पद छोटे पड़ जाते हैं। चारा घोटाले में अक्टूबर 2013 में जेल जाने के बाद लगने लगा था कि राजद को नया नेतृत्व मिलने वाला है। राष्ट्रीय अध्यक्ष के दावेदारों में पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी समेत कुछ नेताओं के नाम उछाले गये थे, किंतु लालू का विकल्प बनना किसी के लिए आसान नहीं था।