चारा घोटाला में लालू दोषी करार, सजा का ऐलान 3 जनवरी को

रांची(23 दिसंबर): बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख लालू प्रसाद यादव को सीबीआई कोर्ट ने दोषी करार दिया है। लालू की सजा का ऐलान 3 जनवरी को होगा। मामले में 22 आरोपी थे, जिनमें 7 को निर्दोष करार दिया गया, जबकि 15 को दोषी करार दिया गया। पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा मामले में निर्दोष करार दिए गए हैं। फैसला के बाद लालू सीधे जेल जाएंगे। 

चारा घोटाला केस में लंबी सुनवाई के बाद रांची की स्पेशल सीबीआई अदालत ने  अपना फैसला सुनाया है। 

ये है पूरा केस

साल 1990 से 1994 के बीच देवघर कोषागार से पशु चारे के नाम पर अवैध ढंग से 89 लाख, 27 हजार रुपये निकालने का आरोप है। इस दौरान लालू यादव बिहार के मुख्यमंत्री थे। हालांकि, ये पूरा चारा घोटाला 950 करोड़ रुपये का है, जिनमें से एक देवघर कोषागार से जुड़ा केस है। इस मामले में कुल 38 लोग आरोपी थे जिनके खिलाफ सीबीआई ने 27 अक्टूबर, 1997 को मुकदमा दर्ज किया था। आज लगभग 20 साल बाद इस मामले में फैसले की घड़ी आई है।

इससे पहले चाईबासा कोषागार से 37 करोड़, 70 लाख रुपये अवैध ढंग से निकालने के चारा घोटाले के एक दूसरे केस में सभी आरोपियों को सजा हो चुकी है।