लालू के घर RJD नेताओं की बैठक खत्म, तेजस्वी यादव नहीं देंगे इस्तीफा

पटना (10 जुलाई): भ्रष्टाचार के आरोपों में घिरे आरजेडी प्रमुख लालू यादव और उनके परिवार वालों पर CBI, ED और इनकम टैक्स के शिकांजे के बीच आज पटना में RJD की अहम बैठक हुई। लालू के घर हुई इस बैठक में तय किया गया है उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव इस्तीफा नहीं देंगे। साथ ही बैठक के बाद आरजेडी नेताओं ने बीजेपी पर लालू और उनके परिवार को परेशान करने का आरोप लगाया। साथ ही बैठक में शामिल विधायकों ने कहा कि इस मीटिंग में 27 अगस्त हो आरजेडी की होने वाली महारैली पर की तैयारियों पर चर्चा की गई। बैठक के बात आरजेडी नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि तेजस्वी यादव विधानमंडल के नेता बने रहेंगे और उप मुख्यमंत्री के पद से इस्तीफा नहीं देंगे।


अब्दुल बारी सिद्दीकी की बड़ी बातें...

- तेजस्वी विधानमंडल के नेता हैं और रहेंगे

- बिहार सरकार के खिलाफ BJP की साजिश

- हमारी हस्ती को मिटाने की कई बार कोशिश हुई, लेकिन हमारी हस्ती मिटी नहीं

- हम राष्ट्रीय राजनीति में मजबूत पार्टी के तौर पर जाने जाते हैं

- 27 अगस्त को रैली में पूरी ताकत झोंकनी है

- देश में घृणा की राजनीति हो रही है

- बैठक में लालू परिवार पर छापे पर चर्चा नहीं हुई


आपको इस पूरे घटना क्रम पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार चुप्पी साधे हुए हैं। बिहार के उप मुख्यमंत्री और लालू के छोटे बेटे तेजस्वी यादव पर इस्तीफे का दवाब बढ़ता जा रहा है। गौरतलब है कि 2006 में रेलवे के होटल के लिए टेंडर देने के एक मामले में CBI ने कार्रवाई करते हुए 5 जुलाई को लालू प्रसाद यादव, उनकी पत्नी राबड़ी देवी, बेटे तेजस्वी यादव और कुछ अन्य लोगों के खिलाफ FIR दर्ज की थी। इसके बाद से ही बीजेपी तेजस्वी के इस्तीफे की मांग कर रही है। हालांकि सीएम नीतीश और उनकी पार्टी जेडीयू की ओर से अभी तक इस मसले पर कुछ नहीं कहा गया है। नीतीश की यही चुप्पी आरजेडी को खल रही है।