वह मुझको मुर्दा समझ रहा है, उसे कहो मैं मरा नहीं हूं: लालू प्रसाद यादव

न्यूज24 ब्यूरो, नई दिल्ली (21 जनवरी): चारा घोटाले के कई मामले में सजा काट रहे राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष लालू प्रसाद ने सोमवार को बिना किसी का नाम लिए इशारों ही इशारों में ही अपने आलोचकों को जवाब दिया। लालू ने कहा कि जो लोग मुझको मुर्दा समझ रहे हैं, उन्हें कहो कि अभी वे मरे नहीं हैं। लालू ने एक पत्रिका के अंक को शेयर करते हुए अपने ट्विटर हैंडल से शायराना अंदाज में टवीट कर लिखा, "अभी गनीमत है सब्र मेरा, अभी लबालब भरा नहीं हूं, वह मुझको मुर्दा समझ रहा है, उसे कहो मैं मरा नहीं हूं।"

बता दें कि चारा घोटाले के कई मामले में लालू झारखंड की एक जेल में सजा काट रहे हैं। फिलहाल अपनी बीमारी को लेकर वे रांची के एक अस्पताल में भर्ती हैं। बिहार में आरजेडी नीत महागठबंधन के नेता लोकसभा में सीट बंटवारे को लेकर लगातार लालू से मिलने वहां पहुंच रहे हैं। कहा जा रहा है कि बिना लालू की हरी झंडी के महागठबंधन में सीट बंटवारा आसान नहीं है। गौरतलब है कि लालू ट्विटर के माध्यम से विरोधियों पर निशाना साधते रहे हैं।

आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव कैद की सजा काट रहे हैं और बीमार होने की वजह से वह अभी अस्पताल में भर्ती हैं। डॉक्टरों के मुताबिक उनको डायबिटीज और हाई ब्लडप्रेशर की शिकायत है। लालू प्रसाद यादव के परिवार में भी इस समय कुछ ठीक नहीं चल रहा है। उनके बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने पत्नी ऐश्वर्या से तलाक की अर्जी दी है, बीते साल तेज प्रताप की वजह से लालू का परिवार चर्चा में रहा है।