चारा घोटाले में लालू पर 6 अलग-अलग केस, अबतक 7 बार जा चुके हैं जेल

रांची (6 जनवरी): चारा घोटाला के देवघर कोषागार मामले में आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव को रांची की विशेष CBI कोर्ट ने साढ़े 3 साल की सजा सुनाई है। कोर्ट लालू पर 5 लाख रुपये जुर्माना भी लगाया गया है। साथ ही कोर्ट ने कहा कि अगर लालू यादव जुर्माने की राशि नहीं जमा कराते हैं तो उन्हें 6 महीने ज्यादा जेल में बिताने होंगे। ऐसा पहली बार नहीं है जब लालू यादव को जेल की हवा खानी पर रही है।

लालू यादव का जेल से पुराना नाता है। वो अब तक 7 बार जेल जा चुके हैं और वहां 375 दिन से ज्यादा गुजार चुके हैं। इतना ही नहीं उन पर चुनाव लड़ने पर भी पहले ही प्रतिबंध लगा है। फिलहाल चारा घोटाले में लालू यादव की मुश्किलें कम होती नहीं दिख रही है। उनपर चारा घोटाले के अलग-अलग 6 केस चल रहे हैं।

इससे पहले 3 अक्टूबर 2013 को चारा घोटाले से जुड़े एक मामले में लालू को 5 साल की जेल की सजा और 25 लाख रुपये का जुर्माना लगाया था। इसके बाद लालू यादव को रांची की बिरसा मुंडा जेल जाना पड़ा था। दिसंबर 2013 में कोर्ट से जमानत मिलने के बाद उन्हें जेल से रिहा किया गया था। कोर्ट ने लालू यादव को ये सजा चारा घोटाले के 37 करोड़ रुपये के केस में दिया था। साल 1996 में CBI ने चाईबासा खजाना मामले में प्राथमिकी दर्ज की और 23 जून 1997 को आरोप पत्र दायर कर लालू प्रसाद यादव को आरोपी बनाया। 30 जुलाई 1997 को लालू प्रसाद ने CBI कोर्ट में आत्मसमर्पण किया। इसके बाद उनको न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।