लालू के दबाव में नीतीश, ताड़ी से बैन हटाया

नई दिल्ली (31 जुलाई):   बिहार सरकार ने अपने ही फैसले पर यू-टर्न लेते हुए ताड़ी से प्रतिबंधित हटा लिया है। विधानसभा में बिहार प्रोहिबिशन ऐंड एक्साइज बिल 2016 पेश किए जाने के 24 घंटों के भीतर ही ताड़ी से बैन हटा दिया गया।

- नीतीश सरकार को यह फैसला आरजेडी प्रमुख लालू यादव के दबाव में लेना पड़ा है। 

- लालू ने ताड़ी पर प्रतिबन्ध लगाए जाने के फैसले का विरोध किया था। 

- बिहार में आरजेडी सबसे बड़ी पार्टी है। इसके 80 विधायक हैं, जबकि जेडीयू के 71 और कांग्रेस के 27 विधायक हैं। इसलिए बिहार में लालू जो चाहे करवा लेते हैं।