बिहार टॉपर्स घोटाला: इतने रुपये ले‍कर कराया जाता था टॉप

पटना (23 जून): बिहार के टॉपर्स कांड में एक और खुलासा हुआ है। यह खुलासा बिहार स्कूल परीक्षा बोर्ड के पूर्व चेयरमैन लालकेश्वर सिंह से पूछताछ में हुआ। लालकेश्वर सिंह ने पूछताछ में बताया है कि बिहार में किसी छात्र को टॉप कराने और पास कराने के लिए कितने पैसे लिए जाते थे।

पुलिस के मुताबिक पूछताछ में पैसे लेकर बच्चों को टॉप करवाने के आरोपी लालकेश्वर सिंह ने कुबूला कि नकल का पूरा रैकेट था। इस रैकेट के तहत ही किसी भी एक छात्र को टॉप करवाने के लिए रकम तय थी। इस बार 20 लाख रुपये प्रति छात्र लिए गए।

पुलिस के अनुसार, पैसे लेकर टॉप करवाने के अलावा लालकेश्वर सिंह कालेजों को मान्यता देकर भी पैसे लेता था। अलग-अलग इंटरमीडिएट कॉलेजों को मान्यता प्रदान करने के लिए उसने चार लाख रुपये लिए। लालकेश्वर सिंह और ऊषा सिंह इस समय रिमांड पर हैं।