दो ऑडी कार की कीमत के बराबर लगी लादेेन के पोस्टर की बोली

नई दिल्ली (20 मई): लादेन भले ही मारा जा चुका है लेकिन उसके नाम की कीमत अब भी लाखों-करोड़ों में है। इस बात का अंदाज़ा सिर्फ इसी बात से लग जाता है कि उसके एक पोस्टर की नीलामी एक लाख डॉलर में हुई है। इस पोस्टर पर उन छह सील कमांडोज़ के सिग्नेचर हैं जो उसका एनकाउंटर करने वाली टीम में शामिल थे। 9/11 के आतंकी हमले के मास्टर माइंड ओसामा बिन लादेन को यूएस नेवी के सील कमांडोज़ ने 2 मई 2011 को पाकिस्तान के अबोटाबाद में मार गिराया था।

ओसामा के इस पोस्टर की नीलामी यूएस नेवी के भूतपूर्व  एडमिरल विलियम मैक रावेन ने टेक्सास यूनिवर्सिटी का चांसलर पद संभालने से पहले आयोजित की थी। यूएस सील कमांडोज़ की इस कार्रवाई पर दर्जनों किताबें, आर्टिकल्स छप चुके हैं और हालिवुड की ब्लॉक बस्टर मूवी ज़ीरो डार्क थर्टी भी बन चुकी है। नीलामी के मैक रावेन ने कहा कि ये वो पोस्टर था जो हमें 2004 से लगातार याद दिलाता था कि हमें इस शख्स की तलाश है जिसने हमारे देश पर हमला करने की जुर्रत की थी।

यह हमारे लिए बहुत कीमती था। जब उनसे पूछा गया कि उन्होंने ओसामा के शव को समुचित ढंग से दफ्नाने पर क्यों जोर दिया था ? इस पर मैक रावेन ने कहा कि बुराई तो उसकी मौत के साथ ही खत्म हो गयी थी, ये हमारा फर्ज़ था कि हम सही काम करें। इस मौके पर कुछ अन्य चीजों की भी नीलामी की गयी। जिनसे आठ लाख 40 हज़ार रुपये की आय हुई। मैक रावेन ने यह रकम टेक्सास चिल्ड्रेन कैंसर सेंटर को दान कर दी।