अपनी सफलता का श्रेय इस खिलाड़ी को देते हैं कुलदीप

नई दिल्ली(20 सितंबर): भारतीय टीम के चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव को जब जब टीम में खेलने का मौका मिला उन्होंने खुद को साबित किया है, चाहे फिर वो टेस्ट क्रिकेट हो यां वनडे क्रिकेट हो यां फिर टी-20। यादव ने अपनी सक्सेस का क्रेडिट पूर्व इंडियन क्रिकेटर गौतम गंभीर को दिया है। 

- 2012 में कुलदीप को आईपीएल में मुंबई ने खरीदा था, लेकिन उन्हें किसी मैच में खेलने का मौका नहीं मिला। इसके बाद 2014 में कोलकाता नाइटराइडर्स में उन्हें खेलने का मौका मिला। इस दौरान टीम के कप्तान गौतम गंभीर ने उन पर ध्यान दिया और पूरा समर्थन भी किया। आज अपनी सफलता के पीछे कुलदीप गौतम गंभीर को श्रेय देते हैं। 

- कुलदीप ने कहा कि जब मैं कुछ भी नहीं था उस समय मुझे सपोर्ट करने का गौतम भाई का मैं बहुत शुक्रगुजार हुं। जब मुझे कोई नहीं जानता था, तब उन्होंने मेरा समर्थन किया। उन्होंने लगातार मुझे मौके दिए। उनके अंडर खेलना और उनके साथ में मेरी जर्नी बहुत शानदार रही। उन्होंने कहा कि मैं टीम इंडिया के लिए तीनों फॉर्मेट में खेलना चाहता था, लेकिन इस सपने को पूरा करने के लिए मुझे गंभीर जैसे ही किसी खिलाड़ी के गाइडेंस की जरूरत थी।

- कुलदीप यादव भारत के पहले चायनामैन गेंदबाज हैं। अपना पहला टेस्ट मैच ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इसी वर्ष कुलदीप ने धर्मशाला में खेला था और पहली पारी में 4 विकेट लेकर एक शानदार गेंदबाज होने का प्रमाण उन्होंने वहां दिया था।