कुलभूषण को बचाने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं: सुषमा स्वराज


नई दिल्ली(11 अप्रैल): विदेश मंत्री सुषमा स्वराज पाकिस्तान में मौत की सजा पाने वाली भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव के मुद्दे पर राज्यसभा में कहा कि जाधव के खिलाफ कोई जासूसी के सबूत नहीं हैं। सुषमा ने सवाल उठाया कि आखिर पाकिस्तान का क्या छुपाना चाहता है। वह लोकसभा में भी बयान देंगी।


इससे पहले, संसद में जाधव को पाकिस्‍तान में फांसी की सजा सुनाए जाने का मुद्दा गूंजा. गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि कुलभूषण जाधव को बचाने का सरकार पूरा प्रयास करेगी।


कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने लोकसभा में कहा कि अगर कुलभूषण जाधव को फांसी होती है, तो यह मोदी सरकार की कमजोरी होगी। उन्होंने कहा कि जाधव की मौत को हुई तो यह 'सोचा समझा मर्डर' होगा।


कुलभूषण जाधव के मुद्दे पर गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने लोकसभा में कहा कि पाकिस्‍तान द्वारा कुलभूषण जाधव को फांसी की सजा दिए जाने की हमारी सरकार निंदा करती है। कुलभूषण के साथ न्‍याय होगा। जाधव को बचाने का सरकार पूरा प्रयास करेगी। उन्होंने कहा कि कुलभूषण जासूस नहीं है, उसके पास भारत का वैध पासपोर्ट है।