बेटी के मंत्री बनने पर मां बोलीं- 'जो मां की नहीं हुई वो मोदी की क्या होगी'

नई दिल्ली (5 जुलाई): मंगलवार को 19 नेताओं ने मोदी मंत्री परिषद में शपथ ली। राज्य मंत्रियों की इस लिस्ट में यूपी के मिर्जापुर सीट से लोकसभा सांसद अनुप्रिया पटेल भी शामिल थीं। लेकिन उनकी मां अपनी बेटी के बीजेपी में शामिल होने पर खुश होने के बजाय दुखी दिखीं। उन्होंने अपनी नाराजगी बेटी के शपथ ग्रहण के दौरान टीवी सेट बंद करके जताया।

बता दें कि अनुप्रिया पटेल अपना दल के टिकट व भाजपा से गंठबंधन कर यूपी की मिर्जापुर सीट से लोकसभा पहुंची। हालांकि आज मंत्री पद की शपथ लेने के बाद उन्होंने इस बात पर अपने पत्ते नहीं खोले कि उनके धड़े का भाजपा में विलय हुआ है या नहीं। हां, उन्होंने यह जरूर कहा कि आज वो जो कुछ हैं अपने माता-पिता के आशीर्वाद से हैं।

मां कृष्ण पटेल ने कहा है कि अनुप्रिया पटेल उनकी पार्टी अपना दल में नहीं हैं, उन्हें पिछले साल ही पार्टी से निकाल दिया गया था। उन्होंने एक टीवी चैनल से कहा कि जो मां की नहीं हुई वो मोदी की क्या होगी। 

कैसे बनी मां-बेटी के बीच ये दीवार साल 2015 के अक्तूबर में कृष्ण पटेल ने अनुप्रिया को अपना दल पार्टी के महासचिव पद से हटा दिया था। उनकी जगह अपनी बड़ी बेटी पल्लवी पटेल को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया था। यहीं से दोनों के बीच खाई बनती चली गई। अपना दल के संस्थापक सोनेलाल पटेल अब इस दुनिया में नहीं हैं।