पाकिस्तान की पहली हिंदू महिला सीनेटर बनीं कृष्णा कुमारी

नई दिल्ली ( 4 मार्च ): पाकिस्तान में शनिवार को सीनेटर के चयन के लिए चुनाव हुआ। इस चुनाव में कृष्णा कुमारी कोल्ही सीनेटर चुनी जाने वालीं पहली हिंदू दलित महिला बनी। सत्तारूढ़ पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी की तरफ से पाकिस्तान के सिंध प्रांत में थार से कृष्णा कुमारी कोल्ही अपर हाउस के लिए चुनाव संपन्न होने के बाद मुस्लिम बहुल देश में पहली हिंदू महिला सीनेटर बनीं। 

बिलावल भुट्टो जरदारी की सत्तारूढ़ पीपीपी ने अल्पसंख्यक के लिए सीनेट की एक सीट पर उन्हें नामित किया था। कोल्ही की जाति का उल्लेख पाकिस्तानी अनुसूचित जातियां अध्यादेश-1957 में है। 

कृष्णा का जन्म 1979 में सिंध के नगरपारकर जिले के एक दूरदराज गांव में हुआ था। उनके परिवार के सदस्यों ने एक जमींदार की एक निजी जेल में करीब तीन साल गुजारे। चैनल के अनुसार कुमारी ने 16 वर्ष की उम्र में लालचंद से विवाह किया था और उस समय वह नौंवी ग्रेड की पढाई कर रही थीं।

हालांकि उन्होंने अपनी पढाई जारी रखी और वर्ष 2013 में उन्होंने सिंध विश्वविद्यालय से समाज शास्त्र में मास्टर्स की डिग्री हासिल की।