अब कोहली के निशाने पर है यह महान क्रिकेटर

नई दिल्ली (19 मई): रन मशीन बन चुके विराट कोहली किसी एक सीरीज में विश्व के महानतम बल्लेबाज ऑस्ट्रेलिया के सर डॉन ब्रैडमैन का रिकार्ड तोड़ सकते हैं। ब्रैडमैन ने 1930 की एशेज सीरीज में पांच मैचों में 139.14 के औसत और चार शतकों की मदद से 974 रन बनाए थे।

एक दिवसीय सीरीज की बात की जाए तो ऑस्ट्रेलिया के ग्रेग चैपल ने 1981-82 की बेंसन एंड हेजेस वर्ल्ड सीरीज में 14 मैचों में 68.60 के औसत से 686 रन बनाए थे, जिसमें एक शतक और पांच अर्धशतक शामिल हैं। विराट मौजूदा आईपीएल टूर्नामेंट में 13 मैचों में 86.50 के औसत और 155.01 के स्ट्राइक रेट से 865 रन बना चुके हैं जिसमें रिकॉर्ड चार शतक और पांच अर्धशतक शामिल हैं।

विराट जिस गति के साथ इस टूर्नामेंट में खेल रहे हैं उसे देखते हुए यदि वह इस टूर्नामेंट में 1000 रनों का आंकड़ा छू लें तो किसी को हैरानी नहीं होगी। उनके पास अभी एक ग्रुप मैच बाकी है और यदि उनकी टीम प्ले ऑफ में पहुंचती है तो वह निश्चित ही ब्रैडमैन का रिकार्ड तोड़कर 1000 रन का आंकड़ा भी छू सकते हैं।

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूरु के कप्तान ने आईपीएल के इतिहास में सर्वाधिक रन बनाने का रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिया है। विराट ने इसके साथ ही आईपीएल में 4000 रन पूरे कर लिए और यह उपलब्धि हासिल करने वाले वह पहले बल्लेबाज बने गए। उन्होंने सुरेश रैना के 3985 रन के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया।

दिलचस्प बात है कि विराट ने अपनी पहली 180 टी-20 पारियों में कोई शतक नहीं बनाया था, लेकिन उसके बाद नौ पारियों में वह चार शतक ठोक चुके हैं। विराट इस वर्ष ट्वेंटी-20 में 75 या उससे ज्यादा के 11 स्कोर बना चुके हैं जो एक कैलेंडर वर्ष में सबसे ज्यादा हैं। गेल ने 2011 और 2015 में दो बार एक कैलेंडर वर्ष में 10 ऐसे स्कोर बनाए थे।