WATCH : केरल में हर जुबान पर पर क्यों है 'एन प्रशांत' का नाम...

नई दिल्ली (10 मई): ये खबर एक ऐसे डीएम से जुड़ी हैं। जिसके फेसबुक पर 2 लाख से अधिक फॉलोवर हैं। जो सोशल मीडिया का इस्तेमाल लोगों की भूख मिटाने के लिए करता है। जिले की तस्वीर बदलने के लिए करता है। जी हां, हम बात कर रहे हैं- केरल के कोझिकोड के कलेक्टर एन प्रशांत की। 

पूरे केरल में हर जुबान पर एन प्रशांत का नाम है। कोझिकोड के कलेक्टर एन प्रशांत ने वो कमाल कर दिखाया है। जिसके बारे में बहुत कम लोग सोच पाते हैं। इनकी सोच का ही कमाल है कि कोझिकोड जिले में न कोई भूखा है और कोई भीख मांगता है। अपने जिले के लोगों की भूख मिटाने के लिए डीएम ने शुरू किया ऑपरेशन सुलेमानी। जिसमें जिले के रेस्टोरेंट्स के साथ मिल कर एक ऐसी योजना चलाई गई, जिसका मकसद था- हर भूखे को खाना खिलाना। 

कलेक्टर एन प्रशांत फेसबुक पर लोगों ने समाज की समस्याओं से निपटने के लिए ऑउट ऑफ बॉक्स यानी लीक से हटकर आइडिया मांगते हैं। उनपर सोच-विचार करने हैं और फिर उसे लागू करवाने में जुट जाते हैं। एन प्रशांत का फूड कूपन प्रोग्राम सुपर हिट रहा। उनकी पहल का नतीजा है कि अब कोझीकोड में कोई भूखा नहीं सोता है और न ही भीख मांगता है। उनके 2 लाख से अधिक फेसबुक फॉलोअर हर मुद्दे पर अपनी बेधड़क राय देते हैं। कलेक्टर साहब सोशल मीडिया पर कभी अपना प्रमोशन नहीं करते।

इससे पहले भी एक झील की सफाई के लिए कलेक्टर प्रशांत ने लोगों को बिरयानी खिलाने का ऑफर दिया था, 750 से अधिक वॉलंटियर्स जुटे और देखते ही देखते पूरी झील साफ हो गयी। उसके बाद वॉलंटियर्स को लजीज बिरयानी खिलाई गयी। 

इस ट्रीट के लिए सूखे से राहत के लिए अलॉट किए गए पैसे का इस्तेमाल किया। उसके बाद से कलेक्टर के फालॉअर्स लगातार बढ़ते गए और अब वो जिले की बड़ी-बड़ी समस्याएं चुटकियों में सुलझा लेते हैं। 

देखिए न्यूज़24 की रिपोर्ट...

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=KHlUrFmh4_Y[/embed]