जानिए, लड़कियों में किस वजह से हो जाती है PCOS की समस्या

नई दिल्ली (10 अप्रैल): तेजी से बदलती जीवनशैली व भागदौड़ भरी दिनचर्या लड़कियों और महिलाओं की सेहत बिगड़ने का एक बड़ा कारण हैं। ऐसे में जंक फूड का ज्यादा इस्तेमाल, खाने-पीने में लापरवाही, शारीरिक गतिविधयां कम होने व मोटापा बढऩे के कारण 15 से 40 वर्ष की आयु की महिलाओं को पीसीओएस (पॉलीसिस्ट ओवरी सिंड्रोम) नामक विकार घेर रहा हैं।

स्त्री रोग एक्सपर्ट्स के मुताबिक, राजधानी में इससे पीडि़ताओं की संख्या दस सालों में 70 फीसदी तक बढ़ गई हैं। इस विकार के कारण कुछ समय बाद महिलाओं को डायबिटीज, रक्तचाप, तनाव, नि:संतानता, कैंसर जैसी बीमारियां हो रही हैं। लेकिन, जागरूकता के अभाव में वे अपने परिजनों को भी नहीं बताती। शादी के बाद इससे परिणाम नि:संतानता व अन्य बीमारियों के रूप में सामने आने लगते हैं। इससे कई लड़कियां डिप्रेशन का भी शिकार हो जाती हैं। यह विकार जीवनचर्या बिगडऩे के कारण होता है, दिनचर्या व खान-पान में बदलाव से यह पूरी तरह से ठीक भी हो सकता हैं।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, मेट्रोपोलिस हेल्थ केयर नामक लेबोरेट्री ने हाल ही में भारत में पीसीओएस पर एक शोध भी किया था। 15 से 30 वर्ष की करीब 27,411 महिलाओं पर सर्वे किया गया। 18 महीनों तक चले इस सर्वे में 4824 महिलाओं को पीसीओएस की समस्या मिली। इसके अनुसार देश में हर दस में से एक महिला इससे पीडि़त हैं। बता दें, पीसीओएस, पॉलीसिस्ट ओवरी सिंड्रोम है, जो एक हार्मोन्स संबंधी विकार है। जिसमें महिलाओं के अंडाशय में गांठे बनने लगती हैं। इस कारण महिलाओं में पुरुष हार्मोन्स सक्रिय होने लगते हैं।

लक्षण

1. अनियमित माहवारी 2. चेहरे पर बालों की अधिकता 3. सिर पर बालों की कमी 4. अधिक मुहांसे 5. त्वचा संबंधी विकार

उपाय

1. मोटापा कम करें 2. नियमित कसरत या योग 3. जंक फूड व फास्ट फूड छोड़ दें