धरती पर डायनासोर से भी पुराने है यह जीव

नई दिल्ली (18 फरवरी): कहते हैं एक उल्का पिंड के पृथ्वी पर टकराने के बाद डायनासोर से लेकर तमाम जीवों का नाश हो गया था, लेकिन इस बीच एक ऐसा जीव बच गया जो डायनासोर से पहले जन्मा था। वह जीव हमारे आसपास पाए जाने वाले सबसे आम कीट हैं। जो हमारे किचन में भी मिल जाते हैं, तो स्टोर रूम में भी। वो फैलाते बीमारी ही हैं। वह हैं कॉकरोच जो डायनासोर से भी पुराने जीव है।

कॉकरोच के बारे में रोचक बातें:

एक कॉकरोच का सिर अगर काट दिया जाए, तब भी वो कई दिनों तक जीवित रहता है। उसकी मौत सिर के न होने से बिल्कुल नहीं होती, बल्कि वो भूख से मरता है। कॉकरोच खुद के बनाए परिवेश में रहते हैं। वो खुद के पड़ोसी भी बनाते हैं और अपनी जरूरत के हिसाब से समाज भी बनाते हैं।

कॉकरोच अगर ज्यादा लंबे समय तक अकेले रहते हैं, तो वे बीमार पड़ जाते हैं। कॉकरोच पूरी तरह से सामाजिक होते हैं। अमेरिका में कॉकरोच की नई प्रजाति मिली है, जो बर्फ जमने की ठंड में भी जीवित रहते हैं। कॉकरोच किसी जगह अकेले नहीं जाते, बल्कि झुंड में जाते हैं। कॉकरोच अगर स्पेस में या सतह के ऊपर पैदा होते हैं। तो वो जल्दी से बढ़ते हैं। तेजी से मजबूत होते हैं, जमीन पर रहने वाले कॉकरोच की तुलना में। सांप की तरह कॉकरोच भी अपने शरीर की ऊपर सतह यानि परत को छोड़ते हैं।

कॉकरोच धरती पर पहुंचने वाले सबसे पुराने कीटों में से हैं। कॉकरोच धरती पर डॉयनासोरों से 120 मिलियन साल पहले आए थे। कॉकरोच धरती पर सबसे तेजी से प्रजनन करने वाले कीट हैं। कॉकरोच अपने समूह में वार्तालाप भी करते हैं। वो संदेशों के आदान-प्रदान में सक्षम होते हैं। कॉकरोच अपने दो पैरों पर भी दौड़ सकते हैं। इस दौरान वो 5 फिट प्रति सेकंड की रफ्तार पा लेते हैं।