कीर्ति आजाद ने दिया अजीब बयान, हनुमान को बताया "चीनी"

Photo: Google


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (22 दिसंबर):
लगता है 2019 में होने वाला आम चुनाव विकास और भ्रष्‍टाचार के मुद्दे से ज्यादा भगवान हनुमान की जाति पर लड़ा जाने वाला है। शायद हनुमान जी ने भी नहीं सोचा होगा कि एक समय उनकी जाति को लेकर इतना गहन अध्यन करेंगे। अभी तक उनको आदिवासी, दलित, मुसलमान और जाट सभी जातियों से जोड़ दिया गया, लेकिन अब पूर्व क्रिकेट और सांसद कीर्ति आजाद ने उनको चीनी बता डाला।

कीर्ति आजाद ने कहा, 'हनुमान जी चीनी थे। हर जगह यह अफवाह उड़ रहा है कि चीनी लोग दावा कर रहे हैं कि हनुमान जी चीनी थे।' हनुमान की जाति को लेकर बीजेपी नेता तरह-तरह की बयानबाजी पर रहे हैं। उत्तर प्रदेश के धर्मार्थ कार्य मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने विधान परिषद में बहस के दौरान हनुमान को जाट बता दिया। उन्होंने कहा था, 'जो दूसरों को दिक्कत में देखकर कूद पड़ते हैं, वह जाट ही हो सकता है, इसलिए हनुमान जाट थे।'

बुक्कल बोले- मुसलमान थे हनुमान

इससे पहले बीजेपी विधायक बुक्कल नवाब ने भी हनुमान की जाति को लेकर अनोखा बयान दिया था। उन्होंने कहा कि हनुमान मुस्लिम थे। इसलिए मुसलमानों के नाम रहमान, रमजान, फरहान, सुलेमान, सलमान, जिशान, कुर्बान पर रखे जाते हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि उनकी सिर्फ जाति पर ही बात होती है। लेकिन उससे पहले ये देखना चाहिए कि वो किस धर्म के थे। मेरा मानना है कि वो मुसलमान थे।

हनुमान की जाति को लेकर सबसे पहला बयान यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने दिया था। उन्होंने 27 नवंबर को अलवर में चुनावी रैली में भाषण के दौरान हनुमान को दलित बताया था। उन्होंने कहा था कि हनुमान वनवासी, वंचित और दलित थे। योगी आदित्यनाथ के इस बयान के बाद हर कोई अपने-अपने स्तर पर हनुमान की जाति बताने लगा। बाबा रामदेव ने बताया कि हनुमान अष्ट सिद्धि के ज्ञानी होने के साथ-साथ क्षत्रिय भी हैं।